Free railway ticket : Indian Railways reprimanded for giving free tickets  to officials | Times of India Travel

अगर आप रेलवे में नौकरी के लिए तैयारी कर रहे हैं तो अपना आधार कार्ड जरूर बनवा लें. रेलवे भर्ती बोर्ड ने कैंडिडेट्स से फॉर्म भरते समय अपना आधार नम्बर जरूर भरने के लिए कहा है. एग्जामनेशन सेंटर पर आधार नम्बर के आधार पर ही कैंडिडेट की पहचान की जाएगी.

रेलवे भर्ती बोर्ड ने कहा है कि कैंडिडेट अपना 12 अंकों का आधार नम्बर फॉर्म भरते समय उसमें भरें. अगर किसी कैंडिडेट ने आधार में रजिस्ट्रेशन करा लिया है पर अब तक कार्ड नहीं मिला है तो उसे 28 अंकों का आधार रजिस्ट्रेशन नम्बर फॉर्म भरते समय देना होगा. परीक्षा केंद्र पर कैंडिडेट की पहचान बायोमेट्रिक अटेंडेंस सिस्टम के जरिए आधार में दर्ज उसकी अंगुली के निशान के आधार पर की जाएगी.

रेलवे भर्ती बोर्ड के मुताबिक जम्मू कश्मीर, मेघालय और असम को छोड़कर सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में ये नियम लागू होगा. जम्मू कश्मीर, असम और मेघालय में कैंडिडेट को फॉर्म भरते समय अपने वोटर आईडी, पासपोर्ट नम्बर, ड्राइविंग लाइसेंस नम्बर या किसी और वैलिड डॉक्यूमेंट की डीटेल देनी होगी.  

रेलवे बोर्ड ने करीब 1.40 लाख पोस्टों पर रिक्रूटमेंट के लिये 15 दिसंबर से कंप्यूटर बेस्ड परीक्षा (CBT) कराने का ऐलान कर दिया है. रेलवे को 1.40 लाख पोस्टों के लिये करीब 2.42 करोड़ एप्लीकेशन फॉर्म मिले हैं.  

खबर के मुताबिक, इनमें 35208 पद नॉन टेक्निकल पॉपुलर कैटेगरी (NTPC) जैसे गार्ड, ऑफिस क्लर्क, कमर्शियल क्लर्क और दूसरे पद के हैं. करीब 1663 पद अलग और मंत्रालयी कैटेगरी जैसे स्टेनोग्राफर आदि और 1,03,769 पद Level-1  के हैं जिनमें पटरियों का रखरखाव करने वाले, प्वाइंटमैन आदि आते हैं.  

रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष ने कहा कि कोविड-19 महामारी के कारण अब तक परीक्षा आयोजित नहीं कराई जा सकी थी. यादव ने कहा कि तीनों कैटेगरी के पदों के लिये कंप्यूटर आधारित परीक्षा 15 दिसंबर से शुरू होगी और डीटेल कार्यक्रम की अनाउंसमेंट भी जल्द ही की जाएगी.