Indian Railways introduces the policy of mandatory food bills in trains in  order to prevent overcharging | Times of India Travel

Indian Railway News रेलवे ने कोरोना वायरस महामारी के चलते इस साल मार्च से 1.78 करोड़ से ज्यादा टिकट रद्द किए हैं। यह जानकारी आरटीआई से मिली। पीटीआई के अनुसार, इसी दौरान 2,727 करोड़ रुपये की रकम वापस की गई।

भारतीय रेलवे (Indian Railway Latest News) अधिक मांग वाले क्षेत्रों में यात्रियों की सुविधाओं को देखते हुए अधिक स्पेशल ट्रेन (Special Train) चलाने की योजना बना रहा है जिसके लिए राज्य सरकारों से सहमति मांगी जा रही है। रेल मंत्रालय के प्रवक्ता ने हालांकि, यह नहीं बताया कि वर्तमान में चल रहीं 230 स्पेशल ट्रेनों के अतिरिक्त ऐसी कितनी और ट्रेन चलाई जाएंगी।

कुछ दिनों बाद हो सकती है घोषणा सूत्रों ने बताया कि नयी स्पेशल ट्रेन (Indian Railway Special Train list) चलाने संबंधी घोषणा आगामी कुछ दिन में की जाएगी। वर्तमान में कोविड-19 की वजह से सभी नियमित यात्राी सेवाएं निलंबित हैं। रेलवे के प्रवक्ता ने कहा, ‘और अधिक स्पेशल ट्रेन चलाने की योजना बनाई जा रही है। राज्य सरकारों से विचार-विमर्श किया जा रहा है।’ यह ट्रेनें इंटरस्‍टेट चलेंगी और इंफ्रास्‍टेट भी होंगी। रेल मंत्रालय (Special Train Time Table) इन ट्रेनों के संबंध में राज्‍य सरकारों से चर्चा कर रहा है। सूत्रों के अनुसार, रेल मंत्रालय को गृह मंत्रालय से अनुमति का इंतजार है। सूत्रों ने यह भी कहा कि अगले दो महीनों या अप्रैल में जब रेलवे जीरो-बेस्‍ड टाइम टेबल जारी करेगा तो इन ट्रेनों के समय में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा।

इस साल मार्च से 1.78 करोड़ से ज्यादा टिकट रद्द रेलवे ने कोरोना वायरस महामारी के चलते इस साल मार्च से 1.78 करोड़ से ज्यादा टिकट रद्द किए हैं। यह जानकारी आरटीआई से मिली। पीटीआई के अनुसार, इसी दौरान 2,727 करोड़ रुपये की रकम वापस की गई। रेलवे ने 25 मार्च से ही अपनी यात्री ट्रेन सेवाएं स्थगित कर दी थी। इस तरह, पहली बार रेलवे को टिकट बुकिंग से जितनी आमदनी हुई उससे ज्यादा रकम वापस की गई।