Railway sources deny reports that production of Vande Bharat Express has  stopped

सभी प्रमुख स्टेशन से खुलने वाली ट्रेनों के टिकट चेकिंग स्टाफ यानि टीटीई अब स्मार्ट बनेंगे। रेल यात्रियों की बर्थ, ट्रेनों में सीटों की स्थिति और टिकट का स्टेट्स अब एक क्लिक पर ही मिल सकेगा। इसके लिए टीटीई को रेलवे की ओर से हैंड हैंडलिंग मशीन दिये जाएंगे। वहीं, अब लोगों को कागज के चार्ट से अपने टिकट का स्टेट्स देखने में भी आपाधापी नहीं करनी होगी। 

दानापुर रेल मंडल के सीनियर डीसीएम आधार राज ने बताया कि दानापुर मंडल के सभी प्रमुख स्टेशनों पर टीटीई को हैंड हैंडलिंग मशीन दी जाएगी। इससे जहां यात्रियों को कम समय में टिकट की जानकारी मिल जाएगी वहीं दूसरी ओर टीटीई को अब कागज के चार्ट में भी खोजबीन नहीं करनी पड़ेगी। 
सीनियर डीसीएम ने बताया कि राजेन्द्र नगर से खुलने वाली राजधानी एक्सप्रेस और सम्पूर्ण क्रांति के टीटीई को मशीन दी जा चुकी है। अब अन्य प्रमुख ट्रेनों के टीटीई को मशीन दी जाएगी। सबसे पहले पटना, दानापुर, पाटलिपुत्र जंक्शन से खुलने वाली प्रमुख ट्रेन के टिकट चेकिंग स्टाफ को मशीनें मिलेंगी। 

10 स्टेशन पर लगेंगे 100 फ़ीट के झंडे:: दानापुर डीआरएम सुनील कुमार ने बताया कि मंडल के विभिन्न स्टेशन से ट्रेन पकड़ने वाले और लौटने वाले यात्रियों में देशभक्ति का जज्बा बढ़ेगा। इसको ध्यान में रखकर मंडल के 10 प्रमुख स्टेशनों पर 100 फ़ीट के झंडे लगाये जाएंगे। डीआरएम ने बताया कि अभी पटना जंक्शन, राजेन्द्र नगर, पाटलिपुत्र और दानापुर के अलावा बक्सर समेत सात स्टेशनों पर झंडे लगे हैं। अब आरा, जमुई, नवादा, जहानाबाद, शेखपुरा, जमुई, किउल, मोकामा समेत कुल 10 स्टेशनों पर झंडे लगाए जाएंगे। आरा में इसी हफ्ते झंडे का उद्घाटन होगा। 

लगेंगे 2000 कोच इंडिकेशन बोर्ड:–  दानापुर मंडल के सभी प्रमुख स्टेशनों पर अब कोच इंडिकेशन बोर्ड लगाये जाएंगे। रेलवे की ओर से इसकी शुरुआत कर दी गयी है। पटना जंक्शन के सभी प्लेटफॉर्म समेत दानापुर, पाटलिपुत्र और राजेंद्र नगर के अलावा आरा, बक्सर, बिहारशरीफ, मोकामा, बख्तियारपुर समेत अन्य स्टेशन कोच इंडिकेशन बोर्ड से लैस होंगे। इससे यात्रियों को सफर के पहले अपने कोच तक पहुंचने में सहूलियत होगी। यात्री अब बोर्ड से ट्रेन का लोकेशन भी जान सकेंगे। रेलवे की ओर से अगले दो हफ़्ते में दानापुर रेल मण्डल के स्टेशनों पर कुल 2000 बोर्ड लग जाएंगे। अभी महज 760 इंडिकेशन बोर्ड ही हैं।