INR: Explaining the Indian Rupee

केंद्रीय कर्मचारियों के पास अब एक साथ इस योजना के तहत तीन अकाउंट को ऑपरेट कर सकते हैं। पहला टियर-I अकाउंट जो कि अनिवार्य है यह पेंशन अकाउंट होता है, दूसरा टियर-II जिसमें निकासी पर कोई प्रतिबंध नहीं है और कोई टैक्स बेनिफिट नहीं मिलता।

पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलेपमेंट अथॉरिटी (पीएफआरडीए) ने नेशनल पेंशन स्कीम (एनपीएस) टियर-II सेवर स्कीम के लिए ऑपरेशनल गाइडलान्स जारी कर दी हैं। गाइडलाइंस में कहा गया है कि केंद्र सरकार का कोई भी कर्मचारी जो कि एनपीएस में कंट्रीब्यूट करता है वह इस योजना के तहत अतिरिक्त पेंशन अकाउंट खुलवा सकता है।

इसके जरिए वह रिटायरमेंट के बाद ज्यादा पेंशन का लाभ ले सकता है। इस तरह केंद्रीय कर्मचारियों के पास अब एक साथ इस योजना के तहत तीन अकाउंट को ऑपरेट कर सकते हैं। पहला टियर-I अकाउंट जो कि अनिवार्य है यह पेंशन अकाउंट होता है, दूसरा टियर-II जिसमें निकासी पर कोई प्रतिबंध नहीं है और कोई टैक्स बेनिफिट नहीं मिलता।

तीसरा टियर-II टैक्स बेनिफिट के साथ तीन साल साल की लॉक इन पीरियड वाला अकाउंट। इसमें कर्मचारी अगर योगदान देते हैं तो उन्हें 1.5 लाख रुपये तक का टैक्स डिडक्शन बेनिफिट मिलता है। बता दें कि केंद्र सरकार के जुलाई 2020 में सरकारी कर्मचारियों के लिए राष्ट्रीय पेंशन योजना टियर II- टैक्स सेवर स्कीम की शुरुआत की थी।

इससे पहले सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों के पे प्रोटेक्शन को लेकर एक आदेश जारी किया है। कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय के कार्मिक व प्रशिक्षण विभाग ने ऑफिस मेमोरेंडम जारी कर इसकी जानकारी दी थी। मेमोरेंडम के मुताबिक डायरेक्ट भर्ती के जरिए कर्मचारियों की अगर अलग सर्विस या कैडर में भर्ती होती हैं तो उन्हें पे प्रोटेक्शन दिया जाएगा। कर्मचारियों को यह सहुलियत सातवें वेतन आयोगे के एफआर 22-बी(1) के तहत मिलेगी।