Isolation Coaches Prepared By Indian Railways Deployed At Delhi's ...

डीआरएम ऑफिस में काम करने वाले 27 कर्मचारी संक्रमित पाए गए हैं। गुरुवार को मेगा जांच शिविर में रैपिड टेस्ट के दौरान खुलासा हुआ। रेल प्रशासन ने डीआरएम ऑफिस को रविवार तक बंद करने का आदेश जारी कर दिया है। सिर्फ कंट्रोल रूम खुलेगा। अन्य सभी विभागों के कर्मचारी घर से काम करेंगे।

इससे पहले भी डीआरएम ऑफिस के कई विभागों के कर्मचारी पॉजिटिव पाए जा चुके हैं। डीआरएम खुद भी संक्रमित होने के बाद क्वारंटाइन रहे। अब उनकी रिपोर्ट निगेटिव आई है।

कोरोना से रेलवे इंजीनियर, गोमो के आरपीएफ जवान व रेलवे हॉस्पिटल की चीफ नर्स की मौत हो चुकी है। डीआरएम ऑफिस में गुरुवार को 497 रेलकर्मियों की जांच हुई। इनमें 27 पॉजिटिव पाए गए। 23 पुरुष व चार महिलाएं हैं। इंजीनियरिग विभाग के छह, सिग्नल एंड टेलिकॉम के सात, आरपीएसएफ के आठ, मेडिकल, वित्त, टीआरडी, एडमिनिस्ट्रेशन का एक-एक व अन्य विभाग के दो लोग पॉजिटिव मिले। पॉजिटिव मिले संक्रमित डीएस कॉलोनी, मनईटांड़, कुम्हारपट्टी, रांगाटांड़, हिल कॉलोनी, रेलवे हॉस्पिटल कॉलोनी, आरपीएसएफ 10वीं बटालियन मुख्यालय, न्यू स्टेशन कॉलोनी व सरायढेला के रहने वाले हैं।

कोविड अस्पताल के डॉक्टर-कर्मियों ने कहा -हमें भी करिए क्वारंटाइन : कोविड अस्पताल में डॉक्टर और कर्मचारियों की ड्यूटी नियमानुसार सात दिनों की होती है। उसके बाद सभी को 15 दिनों के क्वारंटाइन में रहना होता है। एसएसएलएनटी अस्पताल में बने कोविड वार्ड में आइसीएमआर के इस नियम का पालन नहीं हो रहा है। यहां 15 दिनों से डॉक्टर- कर्मचारी सेवा दे रहे हैं। इनका कहना है कि हमें भी क्वारंटाइन किया जाए।

अस्पताल में कोरोना वायरस से संक्रमित गर्भवती महिलाओं का इलाज होता है। पांच अगस्त को यहां पर डॉक्टर कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई गई। जो लगातार सेवा दे रहे हैं। क्वारंटाइन न किए जाने से ये आंदोलन का मूड बना रहे हैं।