Free Indian Logos: Indian Railway Logo Vector (New)

लॉकडाउन के दौरान ड्यूटी से नदारत रहने वाले कर्मचारियों को उनकी छुट्टियां काटकर वेतन दिया जाएगा। इसमें देखा जाएगा कि अगर कर्मचारी दूसरे शहर में फंस गए थे तो लौटने के बाद प्रदेश सरकार की गाइड लाइन के हिसाब से वे क्वारंटीन हुए थे कि नहीं। इस संबंध में आदेश जारी कर दिया गया है। उत्तर मध्य रेलवे के प्रयागराज, झांसी और आगरा मंडल के कई कर्मचारी लॉकडाउन के पहले दूसरे शहरों में फंस गए थे।

इस कारण वे लॉकडाउन के दौरान ड्यूटी पर नहीं जा सके। बिना सूचना के नदारत रहने पर रेलवे ने उनको बिना जानकारी अनुपस्थित मानकर वेतन जारी नहीं किया। बाद में वे लौटकर आए और नौकरी ज्वाइन कर ली। मगर इसके बाद से वे लॉकडाउन की अवधि का वेतन पाने के लिए परेशान थे। रेल प्रशासन ने निर्णय लिया है कि ऐसे कर्मचारियों की उनकी बचत की छुट्टियों को स्वीकृत कर वेतन दिया जाएगा। साथ ही देखा जाएगा कि लौटने के बाद वे क्वारंटीन हुए थे कि नहीं। क्वारंटीन के दिनों की भी छुट्टियों में गिनती होगी। इस संबंध में उत्तर मध्य रेलवे के कार्मिक अधिकारी मनीष कुमार खरे ने आदेश जारी कर दिए हैं।