Railway Ticket Booking System Using QR Code - YouTube

– कोरोना की स्थितियों को ध्यान रखते हुए क्रिस कर रहा तैयारी – कांटेक्ट लेस हो जाएगी टिकट चेकिंग प्रक्रिया – क्यूआर कोड स्कैन करते ही मोबाइल पर आएगा पूरा विवरण लखनऊ। निज संवाददाता रेल यात्रियों को एसएमएस से मिलने वाले टिकट के विवरण को अब संभाल कर रखना होगा। रेलवे एसएमएस के साथ अब टिकट के साथ यूआरएल (लिंक) भी भेजेगा।

कोरोना वायरस के संक्रमण को देखते हुए रेलवे ने क्विक रिस्पांस (क्यू आर) कोड की पद्धति की शुरुआत मंगलवार से टाटानगर स्टेशन में कर दी है। अब टाटानगर स्टेशन के बुकिंग काउंटर से यात्री रिजर्वेशन टिकट खरीदेंगे तो उस टिकट के खरीदते ही यात्री के मोबाइल नंबर पर एक क्यू आर कोड रेलवे भेज देगी। ट्रेन में सफर के दौरान टीटीई को अब यात्री के टिकट को छूने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी।

अब यात्री खुद ही अपना मोबाइल का स्क्रीन ऑन कर उक्त क्यू आर कोड को टीटीई को जैसे ही दिखाएंगे, टीटीई अपने मोबाइल से उक्त क्यू आर कोड को स्केन कर लेगा। फिर टीटीई के मोबाइल पर उक्त यात्री का पूरा बायोडाटा दिखाई देने लगेगा कि यात्री कहां से यात्रा कर रहा है और कहां तक यात्रा करनी है। इसके साथ ही यात्री का नाम, उम्र  व पता पूरी जानकारी टीटीई के पास चली आएगी। इसकी शुरुआत टाटानगर स्टेशन में मंगलवार से शुरु कर दी गई है।

कोरोना के भय से नहीं होती थी ट्रेन में यात्रियों के टिकटों की जांच कोरोना वायरस संक्रमण के भय से ट्रेन में यात्रियों की टिकटों की जांच टीटीई नहीं करते थे। इस कारण रेलवे ने क्यूआर कोड सिस्टम की शुरुआत की और अब टीटीई बिना किसी खौफ के यात्री के टिकटों की जांच क्यू आर कोड के द्वारा कर सकेंगे।

इस यूआरएल में क्यूआर कोड होगा जिसका इस्तेमाल टीटीई जांच के दौरान करेंगे और टिकट जांच की पूरी प्रक्रिया कांटेक्ट लेस हो जाएगी। सेन्टर फाॅर रेलवे इनफार्मेशन सिस्टम (क्रिस) इसकी तैयारी कर रहा है। कोविड 19 के चलते रेलवे टिकट चेकिंग की प्रक्रिया को आसान और कांटेक्ट लेस बनाने जा रहा है। क्रिस ने इसके लिए एक एप्लिकेशन तैयार किया है जिसमे यात्रियों को टिकट काउंटर और ऑनलाइन टिकट बुक कराते समय मिलने वाले एसएमएस के साथ एक यूआरएल भेजा जाएगा। यह क्यूआर कोड का यूआरएल होगा।

टिकट चेकिंग के दौरान यात्री स्टेशन पहुंच कर यूआरएल पर क्लिक करेंगे जिससे क्यूआर कोड खुल जायेगा। टीटीई इस क्यूआर कोड को स्कैन कर यात्री का पूरा विवरण टिकट को बिना हाथ लगाए अपने मोबाइल पर ही देख सकेंगे। पूर्वोत्तर रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पंकज कुमार सिंह के मुताबिक जल्द ही टिकट के एसएमएस के साथ लिंक भी मिलना शुरू होगा। टीटीई लिंक के क्यूआर कोड को स्कैन करने के लिए एप्लिकेशन गूगल प्ले स्टोर से पा सकेंगे। यह प्रक्रिया जल्द ही शुरू होगी जिससे टीटीई और रेल यात्री दोनों को काफी सुविधा होगी। उन्होंने बताया कि इसे लेकर स्टेशन पर भी जल्द स्कैनिंग मशीन लगेंगे जिससे क्यूआर कोड की जांच होगी।