Alstom in India

अभी तक आपने ट्रेनों और स्टेशन पर रेलवे अधिकारियों को टिकट जांच एवं अन्य विभागीय कार्य करते हुए देखा होगा। अब ये अधिकारी रेलवे के लिए मार्केटिंग का काम भी करेंगे। कोरोना काल में ट्रेनों का संचालन पूर्ण रूप से बंद है। ऐसे में आय बढ़ाने के लिए रेलवे ने बिजनेस डवलपमेंट यूनिट(बीडीयू) का गठन किया है। इसमें वाणिज्य, परिचालन, यांत्रिक और लेखा विभाग के अधिकारियों को शामिल किया गया है। सूत्रों के हवाले से बताया गया है कि बैंक कर्मचारियों की तरह टारगेट दिए जाएंगे।

ये छोटे, मझले व्यापारियों, व्यवसाइयों, वाणिज्यिक संगठन, फैक्ट्री संचालकों और विभिन्न कंपनियों से मिलकर रेलवे से माल परिवहन करने के लिए प्रोत्साहित करेंगे। भारतीय रेलवे के इतिहास में ऐसा पहली बार होगा जब रेलवे अधिकारी प्रोफेशनल तरीके से कार्य करेंगे। कोटा मंडल के वरिष्ठ मंडल वाणिज्य प्रबंधक अजय कुमार पाल ने बताया कि कोरोना के चलते लॉकडाउन में ट्रेन सेवा पूर्ण रुप से बंद है।

अनलॉकडाउन के तहत कुछ स्पेशल ट्रेन ही चल रही हैं। ऐसे में कर्मचारियों के वेतन आदि का भार बढ़ता ही जा रहा है। इसी के चलते रेल मंत्रालय ने वायु, जल और सड़क मार्ग के जरिए देश के विभिन्न राज्यों में जाने वाले माल को रेलवे के जरिए भेजने की योजना तैयार की है ताकि, रेलवे को राजस्व मिल सके। इसके लिए रेलवे ने बिजनेस डवलपमेंट यूनिट(बीडीयू) का गठन किया है।

इसमें शामिल अधिकारी विभागीय कार्यों के अलावा फैक्ट्री मालिकों, कंपिनयों, छोटे व्यापारियों और वाणिज्यिक संगठनों से मिलेंगे और उन्हें रेलवे से माल परिवहन के लिए प्रोत्साहित करेंगे। साथ ही रेलवे की ओर से माल परिवहन के लिए दी जाने वाली विशेष रियायतों से भी अवगत कराएंगे।