Important alert! Indian Railways passenger train operations to ...

रेलवे के एक अधिकारी की कोरोना से मृत्यु होने पर फिरोजपुर डिवीज़न के कार्मिक अधिकारी ने आदेश जारी किया हैं कि दिल्ली एनसीआर के स्टाफ यहाँ वहां से आने वाले किसी भी व्यक्ति से बिना इजाजत किसी भी तरह का कोई भी सम्पर्क नहीं किया जायेगा। ऐसा इसलिए किया गया है कि फिरोजपुर डिवीज़न के सीनियर डीएमई जोकि कुछ दिन पहले दिल्ली से आये थे उनकी कोरोना से संक्रमित होकर 16 जून को मृत्यु हो गयी थी।

उक्त अधिकारी के सम्पर्क में आने से फिरोजपुर डिवीज़न के कई कर्मचारी क्वारनटीन कर दिए गए हैं। रेलवे में कोरोना के बढ़ते मामलों ने प्रशासन को परेशान कर दिया है वहीँ कर्मचारियों का आरोप है कि रेलवे अधिकारी कोरोना से बचाव में नाकाम साबित हो रहे हैं। उनका आरोप है कि कार्य स्थलों पर उपयुक्त कोरोना बचाव सामग्री उपलब्ध नहीं है जिससे लगातार संक्रमण का खतरा लगातार बना रहता है।

फिरोजपुर मंडल के सीनियर डिविजन मैैकेेनिकल इंजीनियर (DME) राजकुमार की COVID19 Positive होने के बाद मौत हो गई। 45 वर्षीय डीएमई राज कुमार को 10 जून को लुधियाना के सीएमसी अस्पताल में दाखिल करवाया गया था, जहां 12 जून को उनका कोविड-19 का सैंपल लिया गया और 14 जून को सैंपल की रिपोर्ट पाजिटिव आई थी, सैंपल रिपोर्ट पाजिटिव आने के दो दिन के बाद 16 जून की दोपहर उन्होंने दम तोड़ दिया।

फिरोजपुर जिले से संबंधित यह दूसरे व्यक्ति की कोरोना से मौत है। इसके साथ ही यह भी चर्चा है कि खुद को कोरोना पीड़ित होने पर DME राज कुमार घबरा गए थे, जिसकी वजह से उन्हें हार्ट अटैक आया है। इसके साथ ही मक्खू के गांव सूदा में मंगलवार को एक पुलिस मुलाजिम भी कोरोना पाजिटिव पाया गया है।

राज कुमार 1 जून को छुट्टी खत्म करके दिल्ली से फिरोजपुर लौटे आए थे। यहां 4 जून को उनका पहला टेस्ट लिया गया, टेस्ट में रिपोर्ट नार्मल आई, लेकिन उनकी सेहत में एकाएक दिन गिरावट आने लगी थी, फिर 10 जून को राज कुमार ने खुद ही कमजोरी महसूस करते हुए रेलवे के डिविजनल अस्पताल जानकारी दी तो उन्होंने लुधियाना सीएमसी अस्पताल में दाखिल करवाया गया, फिर वहां दाखिल रखते हुए 12 जून को सैंपल लिया गया और 14 जून को उनके सैंपल की रिपोर्ट पाजिटिव आई थी और अब उन्होंने 16 जून की दोपहर एक बजे दम तोड दिया।

डीआरएम राजेश अग्रवाल और सभी रेल डिविजनल के अधिकारियों व कर्मचारियों ने DME राज कुमार की कोरोना वायरस की चपेट में आने से मौत पर गहरा दुख व्यक्त किया है। रेल अधिकारियों, कर्मचारियों तथा कालोनी वासियों को साफ-सफाई रखने और कोविड-19 की गाइडलाइन का सख्त पालन करने का निर्देश दिया गया है।