Cyber Criminals Have Turned Social Media Cyber Crime Into a $3 ...

DRM ऑफिस का अधिकारी बनकर पूछा पासवर्ड फिर रेलवे गार्ड के खाते से उड़ाए 9 लाख रुपए साइबर अपराधियों का निशाना बने रेलवे के गार्ड पटना जंक्शन पर कार्यरत हैं. उन्होंने इसको लेकर पटना पुलिस (Patna Police) के साइबर सेल में शिकायत दर्ज कराई है.

राजधानी पटना में साइबर अपराधियों ने डीआरएम ऑफिस का अधिकारी बनकर पटना जंक्शन के रेलवे गार्ड अरुण कुमार के खाते से 8 लाख 93 हजार 984 रुपए उड़ा लिए. अरुण सगुना मोड़ स्थित आरके पुरम अपार्टमेंट में रहते हैं. वह पटना-दिल्ली राजधानी समेत कई प्रमुख ट्रेनाें के साथ चलते हैं. उनका एसबीआई खाता (सिंचाई भवन शाखा) सचिवालय में है. इस बाबत शनिवार की की रात काे अरुण ने साइबर सेल और सचिवालय थाना में केस दर्ज करा दिया है.

दरअसल, शातिर ने 5 जून काे पहले उनके माेबाइल पर 8013572045 नंबर से फाेन किया और कहा कि आप फलां तारीख काे रिटायर हाेने वाले हैं. आपका पेंशन अपडेट करना है. उसके बाद उसने दूसरे नंबर 09223011112 से अरुण के रेलवे के माेबाइल नंबर पर मैसेज भेजा. अरुण शातिर के झांसे में आ गए और उसे माेबाइल पर भेजे गए ओटीपी नंबर काे बता दिया. इसके बाद अरुण ने बैंक अधिकारी बेटे राहुल काे यह बात बताई. बेटे के कहने पर अरुण घर के पास में ही सगुना माेड़ स्थित एसबीआई ब्रांच में गए.

वहां उनसे कहा गया कि आप घबराए नहीं, एटीएम ब्लाॅक कर दिया गया है, लेकिन एटीएम ब्लाॅक नहीं हुआ. शनिवार काे जब उन्‍होंने  एसबीआई सिंचाई भवन में रकम निकालने गए ताे पता चला कि उनके खाते से 8 लाख 93 हजार 984 रुपए की निकासी हाे गई है और उनके खाते में मात्र 85 रुपए बचा है. मामले की छानबीन में जुटी सचिवालय पुलिस ने बताया कि केस दर्ज कर लिया गया है और हर एंगल से छानबीन की जा रही है.