देश में कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए अब लॉकडाउन 4.0 की शुरुआत हो चुकी है। इस बीच Indian Railway ने इस चरण के लॉकडाउन में आम लोगों को कुछ राहत पहुंचाने के लिए स्पेशल ट्रेने चलाई हैं। हालांकि अब तक आम लोगों के लिए ट्रेने सेवाओं को पूरी तरह से नहीं खोला गया है। रेलवे 12 मई से दिल्ली से देश के अलग-अलग राज्यों में 15 जोड़ी ट्रेनों का संचालन कर रहा है। इस बीच केंद्र भी साफ कर चुकी है कि 31 मई तक कोई ट्रेन या हवाई सेवा सामान्य तौर पर शुरू नहीं हो सकेगी। वर्तमान में संचालित इन स्पेशल ट्रेनों में सफर के लिए सरकार ने महत्वपूर्ण दिशा निर्देश भी जारी किए हैं। जानें इनके बारे में…

देश में कोरोना संक्रमण से निपटने के लिए अब लॉकडाउन 4.0 की शुरुआत हो चुकी है। इस बीच Indian Railway ने इस चरण के लॉकडाउन में आम लोगों को कुछ राहत पहुंचाने के लिए स्पेशल ट्रेने चलाई हैं। हालांकि अब तक आम लोगों के लिए ट्रेने सेवाओं को पूरी तरह से नहीं खोला गया है। रेलवे 12 मई से दिल्ली से देश के अलग-अलग राज्यों में 15 जोड़ी ट्रेनों का संचालन कर रहा है। इस बीच केंद्र भी साफ कर चुकी है कि 31 मई तक कोई ट्रेन या हवाई सेवा सामान्य तौर पर शुरू नहीं हो सकेगी। वर्तमान में संचालित इन स्पेशल ट्रेनों में सफर के लिए सरकार ने महत्वपूर्ण दिशा निर्देश भी जारी किए हैं। जानें इनके बारे में…

ये हैं रेलवे के 20 निर्देश

– आरक्षित टिकट सिर्फ ऑनलाइन प्रक्रिया से IRCTC की वेबसाइट www.irctic.co.in या IRCTC Rail Connect मोबाइल ऐप के द्वारा ही बुक हो सकेंगे

– रेलवे स्टेशनों के आरक्षण काउंटर से कोई टिकट बुक नहीं होगा

– यात्रियों को RAC टिकट जारी नहीं होंगे और ना ही यात्रा के दौरान कोई टिकट जारी होगा

– यात्रा शुरू होने के निर्धारित समय से 90 मिनट पहले स्टेशन पहुंचना अनिवार्य होगा

– कोरोना के लक्षण न मिलने पर ही यात्रियों को सफर की अनुमति दी जाएगी

– अगर सांस लेने में तकलीफ, खांसी या बुखार होता है तो तत्काल रेल कर्मचारी से संपर्क करे

– स्टेशन पर प्रवेश करने से पहले फेस मास्क और पूरी यात्रा में फेस कवर करना अनिवार्य है

– सभी यात्रियों को आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करना अनिवार्य है

– यात्रा में हाथ धोएं और अल्कोहल युक्त सैनिटाइजर का नियमित इस्तेमाल करें

– यात्री अपने साथ भोजन एवं पानी साथ लेकर चलें

– यात्रियों को सलाह दी गई है कि वे कम से कम सामान के साथ सफर करें

– इस्तेमाल हुए मास्क को सिर्फ ढक्कन युक्त डस्टबिन में ही फेंका जाए

– गंतव्य स्टेशन पहुंचने पर यात्रियों को राज्य द्वारा जारी प्रोटोकॉल का पालन करना होगा

स्पेशल ट्रेनों में 3 लाख टिकट बुक

रेलवे ने 12 मई से स्पेशल ट्रेनें शुरू की हैं। इन ट्रेनों में अब तक 3 लाख यात्रियों ने टिकट बुक की है। रेलवे के मुताबिक पीआरएस के तहत अब तक लगभग 50 करोड़ रुपए से ज्यादा की कमाई हुई है। गौरतलब है कि लॉकडाउन की वजह से अलग-अलग राज्यों में फंसे प्रवासी मजदूरों के लिए रेलवे श्रमिक स्पेशल ट्रेन भी चला रहा है।