रोना संकट और लॉकडाउन के बीच केंद्र को आर्थिक मदद की दरकार है। राजस्व विभाग को भेजे गए सर्रकुलर में यह बात सामने आई है।

कोरोना संकट में बीते दिनों सभी सांसदों के वेतन में एक साल के लिए 30 फीसदी की कटौती के बाद अब केंद्र सरकार के लाखों कर्मचारियों से एक दिन की सैलरी डोनेट करने के लिए कहा गया है। केंद्र सरकार ने अपील की है कि कर्मचारी अपनी एक दिन की सैलरी पीएम केयर्स फंड (PM CARES Fund) में ट्रांसफर करें। कोरोना संकट और लॉकडाउन के बीच केंद्र को आर्थिक मदद की दरकार है। राजस्व विभाग (Revenue Department) को भेजे गए सर्रकुलर में यह बात सामने आई है।


सर्कुलर में अपील की गई है कि कर्मचारियों से मई 2021 तक हर महीने एक दिन की सैलरी पीएम केयर्स फंड (PM CARES Fund) में दान की जाए। हालांकि सर्कुलर में यह भी कहा गया है कि अगर किसी कर्मचारी को इस अपील पर आपत्ति है तो वह सूचना राजस्व विभाग के ड्रॉइंग एंड डिस्बर्सिंग ऑफिसर को लिखित में सूचित कर सकता है। सूचना देते वक्त अपना इम्पलॉय कोड भी साथ में लिखना होगा।


सर्कुलर में यह भी कहा गया है कि वे जो कोरोना (Coronavirus Covid 19) के खिलाफ लड़ाई में मुख्यधारा में शामिल हैं उन्हें इसमें शामिल नहीं किया गया है। गौरतलब है कि कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन के चलते आर्थिक गतिविधियां पूरी तरह से ठप हैं।