रेलवे ने कहा कि जनता कर्फ्यू के बावजूद कुछ महत्वपूर्ण और चुनिंदा ट्रेनें कल भी चलेंगी, ऐसी ट्रेनों का निर्धारण जोन में किया जाएगा. इसके अलावा पहले से चल रही ट्रेनें अपनी यात्रा भी पूरी करेगीं. रेलवे ने कहा है कि यात्रा के बीच में किसी ट्रेन को नहीं रोका जाएगा.








  • कल सुबह 7 बजे से जनता कर्फ्यू
  • रेलवे ने किया ट्रेनों को बंद करने का ऐलान
  • बीच में नहीं रोकी जाएंगी चलती ट्रेन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 22 मार्च को लोगों से जनता कर्फ्यू का पालन करने की अपील की है. इस दिन न तो ट्रेनें चलेंगे और न ही दिल्ली में मेट्रो दौड़ेगी. यूपी सरकार ने 22 मार्च को अपनी रोडवेज बसों को भी बंद करने का ऐलान किया है.

रेल मंत्रालय के मुताबिक 21/22 मार्च की आधी रात यानी ठीक 12 बजे से 22 मार्च की देर रात 10 बजे तक कोई भी यात्री ट्रेन नहीं चलेगी. यानी कि 22 घंटे तक ट्रेनों की सेवाएं बंद रहेंगी. हालांकि, पहले ही दिन सात घंटे की यात्रा पूरी कर चुकी पैसेंजर ट्रेन के लिए रेलवे ने राहत का इंतजाम किया है. ऐसी ट्रेनों को गंतव्य तक जाने की इजाजत होगीं.




नहीं रोकी जाएगीं पहले से चल रही ट्रेनें

भारतीय रेलवे ने इस बाबत कई अफवाहों को खारिज किया है. रेलवे ने कहा है कि कई जगह ये दिखाया जा रहा है कि 22 मार्च को निर्धारित समय सीमा के बीच कोई नई ट्रेन नहीं चलेगी और पहले से चल रही ट्रेनों को भी रोक दिया जाएगा. लेकिन ये जानकारी सही नहीं है.

कुछ नई ट्रेनें भी चलेगीं

रेलवे ने कहा कि कुछ महत्वपूर्ण और चुनिंदा ट्रेनें कल भी चलेंगी, ऐसी ट्रेनों का निर्धारण जोन में किया जाएगा. इसके अलावा पहले से चल रही ट्रेनें अपनी यात्रा भी पूरी करेगीं. रेलवे ने कहा है कि यात्रा के बीच में किसी ट्रेन को नहीं रोका जाएगा.

बता दें कि कोरोना वायरस के दहशत से रेल यात्रियों की संख्या में कमी आई है. लाखों लोगों ने अपना टिकट कैंसिल करवा दिया है. कोरोना वायरस के कारण भारतीय रेलवे ने 150 से ज्यादा ट्रेनों को 31 मार्च तक के लिए कैंसिल कर दिया है.




हरियाणा यूपी में बसें बंद

जनता कर्फ्यू के दौरान रविवार को दिल्ली एनसीआर में अधिकांश स्थानों पर सार्वजनिक बस प्रणाली बंद रखी जाएगी. दिल्ली से सटे मिलेनियम सिटी गुड़गांव से दिल्ली आने-जाने वाली सभी बसों को बंद रखने का फैसला लिया गया है. गुड़गांव में अभी तक कोरोनावायरस के 4 मामलों की पुष्टि हो चुकी है.

इसके अलावा हरियाणा सरकार ने जनता कर्फ्यू के दौरान राज्य परिवहन की सभी बसों को बंद रखने का निर्णय लिया है. यूपी सरकार ने भी अपनी रोडवेज बसों को बंद रखने का फैसला किया है. इसके अलावा दिल्ली में मेट्रो सेवाएं भी बंद रहेगी.