कोरोना संक्रमित पाई गई बेटी के बारे में गलत जानकारी देना रेलवे इंजीनियर को भारी पड़ गया है। रेलवे ने भी उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई शुरू कर दी है।

रेलवे इंजीनियर की बेटी की शादी फरवरी में हुई थी। बेटी अपने पति के साथ दो मार्च को सिंगापुर से लौटी थी। बेंगलूरू एयरपोर्ट पर स्क्रीनिंग में रेलवे इंजीनियर का दामाद कोरोना पॉजिटिव मिला था। उनकी बेटी को भी बेंगलूरू में निगरानी में रखा गया था, परंतु वह आगरा आ गई। यहां पर स्वास्थ्य विभाग की टीम जब बेटी की जांच के लिए पहुंची तो पिता ने टीम को गुमराह कर दिया था कि बेटी दिल्ली चली गई। पीआरओ एसके श्रीवास्तव ने बताया कि डीआरएम ने इंजीनियर के खिलाफ विभागीय कार्रवाई के आदेश जारी कर दिए हैं।








मिलने वालों की नहीं होगी स्क्रीनिंग

स्वास्थ्य विभाग ने महिला के पिता सहित सभी परिजनों के टेस्ट भी कराए थे। बेटी तो रविवार को पॉजिटिव निकली, परंतु बाकी परिजनों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। इसके बाद पिता सहित अन्य परिजनों से उस दौरान मिले लोगों की स्क्रीनिंग का फैसला स्वास्थ्य विभाग ने टाल दिया है।

कोरोना वायरस को लेकर रेलवे भी हुई अलर्ट, गाइड लाइन जारी