सातवाँ वेतन आयोग – DA में बढ़ोत्तरी के बाद अब न्यूनमत वेतन में इजाफे पर लग सकती है मुहर, कर्मचारियों को मिल सकता है एक और गिफ्ट

कर्मचारी बीते काफी समय से मांग कर रहे हैं कि उनके न्यूनतम वेतन को 18,000 रुपये से बढ़ाकर 26,000 रुपये किया जाए।








मोदी सरकार ने होली के तुरंत बाद केंद्रीय कर्मियों के महंगाई भत्ते (डीए) में चार फीसदी की बढ़ोत्तरी कर दी। डीए में बढ़ोत्तरी के बाद अब कर्मचारियों को उम्मीद है कि सरकार उनके न्यूनतम वेतन में बढ़ोत्तरी की मांग पर भी मुहर लगा सकती है। कर्मचारी बीते काफी समय से मांग कर रहे हैं कि उनके न्यूनतम वेतन को 18,000 रुपये से बढ़ाकर 26,000 रुपये किया जाए। डीए में बढ़ोत्तरी के बाद इस बात की उम्मीद जताई जा रही है कि सरकार न्यूनतम वेतन पर भी फैसला ले सकती है। सरकार का यह फैसला करीब 50 लाख से ज्यादा कर्मचारियों को फायदा पहुंचाएगा।




न्यूनतम वेतन में बढ़ोतरी की मांग के साथ ही केंद्रीय कर्मचारी फिटमेंट फैक्टर को बढ़ाने की मांग कर रहे हैं। अभी केंद्रीय कर्मचारियों को 2.57 फीसदी फिटमेंट फैक्टर मिलता है। इसे बढ़ाकर 3.68 फीसदी की मांग की गई है।