राज्यकर्मियों को बोनस का आदेश, डीए भी दिवाली से पहले

प्रदेश सरकार ने दीपावली से पूर्व राज्य कर्मचारियों को बोनस देने का आदेश जारी कर दिया है। करीब 14.2 लाख अराजपत्रित कर्मचारियों को बोनस दिया जाएगा। बोनस की अधिकतम सीमा 7000 रुपये निर्धारित की गई है। 75 फीसदी धनराशि कर्मचारियों के भविष्य निधि खाते में और 25 फीसदी नकद भुगतान का आदेश दिया गया है।








मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के आदेश के बाद अपर मुख्य सचिव वित्त संजीव मित्तल ने मंगलवार को बोनस देने का शासनादेश जारी कर दिया। राज्य कर्मचारियों, राजकीय विभागों में कार्य प्रभारित कर्मचारियों, सहायता प्राप्त शिक्षण एवं प्राविधिक शिक्षण संस्थाओं तथा स्थानीय निकायों के कर्मचारियों और दैनिक वेतन भोगी कर्मचारियों को बोनस का लाभ मिलेगा। वर्ष 2018-19 के लिए 30 दिन के तदर्थ बोनस का भुगतान किया जाएगा। इससे खजाने पर 668 करोड़ रुपये का भार पड़ेगा।




एससी-एसटी कर्मचारियों ने डीआरएम से मांगी पदोन्नति

पूर्वोत्तर रेलवे में अनुसूचति जाति/ अनुसूचित जनजाति कर्मचारियों की पदोन्नति रुकी पड़ी है। वरिष्ठता सूची का निर्धारण नहीं है, रेलवे बोर्ड के मानकों के अनुसार सुविधा नहीं मिल रही, स्थानांतरण, एरियर भुगतान सभी कुछ अटका है। इन्हीं परेशानियों को लेकर मंगलवार एससीएसटी एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने डीआरएम विजय लक्ष्मी कौशिक के साथ अनौपचारिक बैठक की।




बैठक में एसोसिएशन पदाधिकारियों ने डीआरएम से जल्द से जल्द उनकी समस्याओं को दूर कराने की मांग की। डीआरएम ने एसोसिएशन पदाधिकारियों की मांगें सुनी और कहा कि उनकी सभी समस्याओं का समाधान संभव है। संगठन के सभी मुद्दों का जल्द निष्पादन कराया जाएगा। डीआरएम ने इस मौके पर संगठन पदाधिकारियों से प्रशासनिक कार्यों में सहयोग की अपील की। बैठक का संचालन वरिष्ठ मंडल कार्मिक अधिकारी यूपी सिंह ने किया। कार्यक्रम में एडीआरएम गौरव गोविल, सीएमओ डॉ. संजय श्रीवास्तव, सीनियर डीएमई एसएस कैरो, सीनियर डीईई राघवेंद्र कुमार समेत कई विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।