भारतीय रेलवे (Indian Railways) अपने नॉन गजटेड इम्‍प्‍लॉइज को त्‍योहार से पहले बोनस देने का ऐलान कभी भी कर सकता है. मीडिया रिपोर्ट को मानें तो इस बार भी 78 दिन का बोनस के रूप में 17951 रुपए दिए जा सकते हैं.








भारतीय रेलवे (Indian Railways) अपने नॉन गजटेड इम्‍प्‍लॉइज को त्‍योहार से पहले बोनस देने का ऐलान कभी भी कर सकता है. मीडिया रिपोर्ट को मानें तो इस बार भी 78 दिन के बोनस के रूप में 17951 रुपए दिए जा सकते हैं. यह बोनस रेल कर्मचारी के प्रोडक्टिविटी लिंक इमॉल्‍यूमेंट का हिस्‍सा है. सरकार ने बीते साल भी इतना बोनस दिया था. हालांकि रेलवे की इस ओर से अभी इस संबंध में कोई आदेश नहीं जारी किया गया है. लेकिन बैंक यूनियन के पदाधिकारी ऐसा दावा कर रहे हैं.




12 लाख से अधिक कर्मचारियों को फायदा
इस बोनस का लाभ इंडियन रेलवे के करीब 12 लाख नॉन गजटेड कर्मचारियों को होगा. लेकिन रेलवे यूनियन इसे कम बताती हैं. रेलवे बीते 7 साल से यही बोनस बांट रहा है.

78 दिनों का मिल सकता है बोनस
ऑल इंडिया रेलवे मेन्‍स फेडरेशन के सेक्रेटरी एसजी मिश्र के मुताबिक सरकार को रेल कर्मचारियों के बोनस के फॉर्मूले को बदलना चाहिए. रेलवे कर्मचारियों को जो 17951 रुपये मिल रहा है, वह न्यूनतम मजदूरी से भी कम है. कर्मचारियों की मांग है कि कम से कम 80 दिनों का बोनस मिलना चाहिए.




क्या है फॉर्मूला
रेलवे ने बीते साल अपने रेलवे कर्मचारियों को 78 दिन का बोनस दिया था. यानि 30 दिन के बोनस के तौर पर 7000 रुपये बोनस बना. रेलवे यूनियन के अनुसार रेलवे में इस समय कर्मचारियों की भारी कमी है. ऐसे में कम कर्मचारियों ने ज्यादा काम किया है. बोनस भी अधिक मिलना चाहिए.

Source:- ZEE BIZ