नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर आठ पर चंडीगढ़-कुचुवेल्ली एक्सप्रेस के पावर कार (जनरेटर यान) में आग लग गई। आग की ऊंची लपटें उठते देख स्टेशन पर अफरा-तफरी मच गई। दमकल की आठ गाड़ियों ने किसी तरह से आग पर काबू पाया, जिससे बड़ा हादसा टल गया। किसी भी यात्री को कोई नुकसान नहीं हुआ, लेकिन जनरेटर यान के आधे हिस्से में बने पार्सल कोच में रखा हुआ सारा समान जलकर राख हो गया। प्लेटफॉर्म का टीन शेड का एक हिस्सा भी जल गया है। आग लगने के कारणों की जांच के लिए रेल प्रशासन ने एक कमेटी गठित कर दी है।








शुक्रवार दोपहर करीब 1.40 बजे नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर आठ से कुचुवेल्ली एक्सप्रेस रवाना हुई थी। ट्रेन अभी प्लेटफॉर्म से निकली भी नहीं थी कि इसके पिछले हिस्से में लगे जनरेटर यान से धुआं निकलने लगा और देखते ही देखते आग की लपटें उठने लगीं। रेलवे कर्मचारियों ने ट्रेन रुकवाने के साथ ही दमकल विभाग व रेलवे अधिकारियों को सूचना दी। कर्मचारियों ने यान को ट्रेन से अलग किया और ट्रैक के साथ स्थित पानी की पाइप लाइन से आग बुझाने लगे। थोड़ी देर में दमकल की आठ गाड़ियां पहुंच गईं। करीब एक घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया।







जनरेटर यान के डीजल टैंक में भरा था तीन हजार लीटर डीजल: गनीमत यह रही कि जनरेटर यान के डीजल टैंक तक आग नहीं पहुंची। टैंक में तीन हजार लीटर डीजल भरा हुआ था। यदि उसमें आग पकड़ लेती तो बड़ा नुकसान हो सकता था। प्राथमिक जांच में शॉर्ट-सर्किट के कारण आग लगने की आशंका है। जांच के बाद ही आग के सही कारणों का पता लगेगा। क्षतिग्रस्त जनरेटर को अलग करके ट्रेन को हजरत निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन के लिए रवाना किया गया। वहां पर दूसरा जनरेटर यान जोड़कर उसे गंतव्य के लिए रवाना किया गया। इस बारे में उत्तर रेलवे मुख्य जनसंपर्क अधिकारी दीपक कुमार का कहना है कि आग लगने के कारण का अभी पता नहीं चला है। हादसे के बाद 2. 43 बजे कुचुवेल्ली एक्सप्रेस को नई दिल्ली से रवाना कर दिया गया था।

नई दिल्ली रेलवे स्टेशन पर ट्रेन के जनरेटर यान में लगी आग ’ वीडियो क्रॉप

प्लेटफार्म नंबर आठ पर चंडीगढ़ कुचुवेल्ली एक्सप्रेस के जनरेटर यान में लगी आग को बुझाते दमकलकर्मी