कर्मचारी साल 2019 की दूसरी छमाही में डीए में बढ़ोतरी का इंतजार कर रहे हैं। मौजूदा समय में डीएम 12 प्रतिशत निर्धारित किया गया है कर्मचारियों को उम्मीद है कि इसमें पांच प्रतिशत तक की बढ़ोतरी की जा सकती है।

मोदी सरकार दशहरे से पहले केंद्र सरकार के कर्मचारियों के महंगाई भत्ते (डीए) में बढ़ोतरी कर सकती है। इससे सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों पर लंबे समय से सुधार की मांग कर रहे कर्मचारियों को बड़ी राहत मिल सकती है। मालूम हो कि कर्मचारी साल 2019 की दूसरी छमाही में डीए में बढ़ोतरी का इंतजार कर रहे हैं। मौजूदा समय में डीएम 12 प्रतिशत निर्धारित किया गया है कर्मचारियों को उम्मीद है कि इसमें पांच प्रतिशत तक की बढ़ोतरी की जा सकती है। बता दें कि हर छह महीने पर सरकार महंगाई भत्ते की समीक्षा करती है।








मीडिया में जारी रिपोर्ट्स और अखिल भारतीय उपभोक्ता मूल्य सूचकांक (एआईसीपीआई) डेटा के मुताबिक, सरकारी कर्मचारी एच-2 2019 के महंगाई भत्ते में 5 प्रतिशत बढ़ोतरी की उम्मीद कर रहे हैं। मालूम हो कि इस साल की पहली छमाही में जनवरी में डीए में बढ़ोतरी की गई थी। दूसरी छमाही में यह जुलाई में लागू होना था लेकिन माना जा रहा है कि अगस्त के आखिरी हफ्ते या फिर दशहरे के साथ शुरू होने वाले त्यौहारों के मौसम से पहले यह लागू हो सकता है। अगर ऐसा होता है तो कर्मचारियों को जुलाई, अगस्त, सितंबर का एरियर भी मिलेगा।




हालांकि कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि सरकार डीए बढ़ाने का एलान हर हाल में अगस्‍त में ही कर सकती है। अगर बढ़ोतरी 5 प्रतिशत रहती है तो इससे केंद्र सरकार के कर्मचारियों की सैलरी में 720 रुपए से लेकर 10 हजार रुपए प्रति माह तक की बढ़ोतरी संभव है।




मालूम हो कि सरकार ने जनवरी में पहली बार डीए में 3 फीसदी की बढ़ोतरी की थी। 2018 में इसमें दो बार 2-2 प्रतिशत की ही बढ़ोतरी की गई थी। 2016 में जब नए वेतन आयोग की सिफारिशें लागू हुई थीं, उस समय महंगाई भत्‍ता खत्‍म कर दिया गया था पर बाद में कर्मचारियों के भारी विरोध के बाद इसे फिर से लागू कर दिया गया।

Source:- Jansatta