अवध आसाम एक्सप्रेस में चल रहे टिकट परीक्षक (टीटीई) ने यात्रियों के साथ जमकर धनउगाही की। इससे परेशान होकर यात्रियों ने टीटीई की ट्विट करके शिकायत की। वहीं चारबाग स्‍टेशन पर टीटीई को खोजा गया लेकिन वो नहीं मिले। यही नहीं स्‍टेशन पर यात्रियों को बुलाकर टीटीई की परेड करवाई।








अवध आसाम एक्सप्रेस में चल रहे टीटीई ने यात्रियों से टिकट के नाम पर जमकर वसूली की। वसूली की शिकायत पर रेलवे अफसर हरकत में आ गए। ट्रेन के चारबाग पहुंचने पर टीटीई की परेड कराई गई। हालांकि, वसूली करने वाला टीटीई नहीं मिला। वहीं, शिकायत करने वाले यात्री टीटीई के किसी अन्य स्टेशन पर उतरने की बात कहकर शांत हो गए।




लखनऊ डीआरएम को फारवर्ड की गई शिकायत 
यात्री प्रवीण कुमार अवध आसाम एक्सप्रेस (15910) के स्लीपर कोच एस-5 में सफर कर रहे थे। वे मुरादाबाद से लखनऊ आ रहे थे। उन्होंने सोशल मीडिया पर उत्तर रेलवे के मुरादाबाद मंडल के डीआरएम से शिकायत की कि टीटीई धनंजय सिंह ने 50 यात्रियों से वसूली की, इससे यात्रियों में नाराजगी है।




चारबाग स्टेशन पर टीटीई की हुई परेड 
ट्रेन के मुरादाबाद से चल देने के कारण कार्रवाई नहीं हो सकी, लेकिन पैसों का मामला होने के कारण डीआरएम मुरादाबाद ने मामले में कार्रवाई के लिए डीआरएम लखनऊ संजय त्रिपाठी को ट्विट फॉरवर्ड कर दिया। वहीं, चारबाग रेलवे स्टेशन पर जब ट्रेन पहुंचते ही डिप्टी एसएस कॉमर्शियल एस के वैद्य ने स्टेशन पर मौजूद टीटीई स्टाफ को बुलाकर यात्रियों से पहचानने के लिए कहा, लेकिन टीटीई की परेड में धनंजय सिंह नहीं थे।