हजरतगंज स्थित डीआरएम ऑफिस में कार्यरत लेखा सहायक सोनी कुमारी (31) ने रविवार सुबह आलमबाग की बीजी रेलवे कालोनी की चौथी मंजिल से कूदकर जान दे दी। पड़ोसियों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने खून से लथपथ सोनी को अस्पताल पहुंचाया जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। .

‘ बिहार की रहने वाली महिला लेखा सहायक पद पर तैनात थी

पुलिस को उसके कमरे से थानाध्यक्ष आलमबाग के नाम सम्बोधित सुसाइड नोट मिला है। इसमें सोनी ने विभाग के छह अधिकारियों पर प्रताड़ना का आरोप लगाया है। पुलिस ने परिवारीजनों को घटना की सूचना दे दी है। घरवालों के तहरीर देने पर मुकदमा दर्ज किया जाएगा। .








सीओ आलमबाग संजीव कुमार सिन्हा ने बताया कि सोनी कुमारी मूल रूप से बिहार के नालंदा के जमुनापुर की रहने वाली थी। सोनी पिछले दो साल से आलमबाग की बीजी रेलवे कालोनी की चौथी मंजिल पर स्थित फ्लैट में अकेली रहती थी। स्थानीय लोगों ने बताया कि सोनी के परिवारीजन अक्सर फ्लैट में आते-जाते रहते थे। पड़ोस में रहने वाली सुमित ने बताया कि रविवार सुबह 6:30 बजे वह मॉर्निग वॉक के लिए निकला तो सोनी खून से लथपथ हालत में नीचे पड़ी थी। .

पत्र में छह अधिकारियों के नाम : इंस्पेक्टर आलमबाग वीरेन्द्र कुमार सोनकर ने बताया कि सोनी के कमरे की तलाशी ली गई। उसकी डायरी से एक प्रार्थना पत्र मिला है जिसमें उसने विभागीय प्रताड़ना की बात लिखी है। उसने अपने अधिकारी एसएसओ आदित्य शुक्ला, एसएसओ सोमेश मित्तल, एए आकाश कुमार, एए करुणेश कुमार, एए विवेक कुमार और एए अवधेश पर गंभीर आरोप लगाए हैं। .




संतोष ने बताया कि कुछ दिन पहले मां मनोरमा सोनी के साथ रहकर गई थीं। इस दौरान सोनी ने उनसे अपना दर्द बयां किया था। अधिकारियों के रवैये से परेशान होकर वह तबादला चाहती थी। .

सीओ ने बताया कि रविवार को डीआरएम ऑफिस बंद होने के चलते अधिकारियों से संपर्क नहीं किया जा सका। सोमवार को ऑफिस खुलने पर आरोपी कर्मचारियों से पूछताछ *की जाएगी।.

महिला कर्मी ने सुसाइड किया है। इस मामले में पुलिस जांच कर रही है। रेलवे की कोई भूमिका नहीं है। जांच में पुलिस की हर संभव मदद की जाएगी।.

सतीश कुमार.

डीआरएम, उत्तर रेलवे .

पुलिस की जांच में सामने आया कि सोनी ने करीब 20 दिन पहले डीआरएम को पत्र लिखकर मामले की शिकायत की थी। उसने आरोपी अधिकारियों पर गुट बनाकर उसे परेशान करने का आरोप लगाया था। सोनी ने बताया था कि बात न मानने पर आरोपी उसे बेवजह दौड़-भाग वाला काम देकर परेशान करते हैं। भाई संतोष का आरोप है कि शिकायत के बाद भी कार्रवाई न होने पर सोनी ने खुदकुशी कर ली। .




इंस्पेक्टर ने बताया कि सोनी ने इन अधिकारियों पर छींटाकशी करने और मानसिक प्रताड़ना देने का आरोप लगाया है। परिवारीजनों के आने के बाद सोमवार को शव का पोस्टमार्टम कराया जाएगा। तहरीर मिलने पर आरोपी अधिकारियों के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का मुकदमा दर्ज किया जाएगा। सोनी के बड़े भाई संतोष ने बताया कि परिवार में उसकी मां मनोरमा और दो बहनें हैं। इसमें बड़ी बहन शोभा व छोटी बहन सोनी हैं।