7th Pay Commission: रेलवे कर्मियों के लिए खुशखबरी, इन तीन पदों का होगा मर्जर, भर्ती के लिए अब होगी सिर्फ एक परीक्षा

7th Pay Commission, 7th CPC Latest News Today: भारतीय रेलवे ने 7वें वेतन आयोग के सुझाव के अनुसार टिकट चेंकिंग स्टॉफ (TC), कॉमर्शियल क्लर्क (CC) और रिजर्वेशन क्लर्क (ECRC) के इस सभी पदों का विलय कर एक कैडर बनाने का फैसला लिया है.









नई दिल्ली. 7th Pay Commission, 7th CPC Latest News Today: 7वें वेतन आयोग के सुझावों के तहत भारतीय रेलवे बोर्ड ने एक बड़ा बदलाव करना का फैसला लिया है. रेलवे में इस बदलाव के अनुसार अब टिकट चेंकिंग स्टॉफ (TC),कॉमर्शियल क्लर्क (CC) और इंक्वायरी/रिजर्वेशन क्लर्क (ECRC) के इस सभी पदों को एक साथ मिलाकर एक कैडर बनाया जाएगा. इससे पहले रेलवे के इन पदों के लिए अलग-अलग भर्तिया करने की प्रक्रिया होती थी. इसके साथ ही रेलवे बोर्ड के इस नए फैसले के बाद अब इन पदों के लिए एक ही परीक्षा आयोजित होगी.




भारतीय रेलवे के मुताबिक मौजूदा समय में चेंकिंग स्टॉफ (TC),कॉमर्शियल क्लर्क (CC) और इंक्वायरी/रिजर्वेशन क्लर्क (ECRC) के पदों पर कार्यरत कर्मचारियों के क्षेत्र स्तर में बहुत असमान्यताएं पाई गयी हैं. वहीं अगर गौर करें इन सभी पदों पर काम करे रहें कर्मचारियों के पदों का विलय किया जाता है तो इसका प्रभाव कर्मचारियों के प्रमोशन, श्रेष्ठता पर अधिक देखने मिलेगा. इस आधार पर रेलवे ने 22 फरवरी 2018 के बाद से चेंकिंग स्टॉफ (TC),कॉमर्शियल क्लर्क (CC) और इंक्वायरी/रिजर्वेशन क्लर्क (ECRC) के इन सभी पदों का विलय कर एक कैडर बना कर भर्ती करने की योजना की बात को कहा है.




भारतीय रेलवे के दिल्ली मंडल के महामंत्री अनूप शर्मा ने कहा है कि 7वें वेतन आयोग के सुझाव के तहत लिए गए इस निर्णय के द्वारा पहले से काम कर रहे रेलवे कर्माचरियों पर इसका कोई असर नहीं पड़ेगा. वह जिस प्रकार काम करे रहे थे, वैसे ही कार्यरत रहेंगे. इन कर्मचारियों के लिए प्रमोशन, श्रैष्ठता (सीनियरिटी), अन्य सुविधाएं और व्यवस्था जस के तस बनी रहेंगी. इस आधार पर रेलवे के इन कर्मचारियों कोई हानि नहीं होगी. अब से भारतीय रेलवे के इस नए बदलाव के बाद से नए भर्ती होने वाले कर्मचारियों को एक कैडर बना कर भर्ती करने की प्रक्रिया होगी.

रेलवे के इस निर्णय के बाद से चेंकिंग स्टॉफ (TC),कॉमर्शियल क्लर्क (CC) और इंक्वायरी/रिजर्वेशन क्लर्क (ECRC) के इन पदों के विलय के बाद टिकट बुकिंग वाले को पार्सल में लगाने की समस्या से निजात मिलेगी. साथ ही मर्जर के पश्चात चेंकिंग स्टॉफ कॉमर्शियल क्लर्क, रिजर्वेशन क्लर्क को किसी पद पर लगाया जा सकेगा. इसके तहत रेलवे बोर्ड के पास कई पदों पर कर्मियों को लगाने के कई विकल्प होंगे.

बता दें कि भारतीय रेलवे के तरफ से 7वें वेतन आयोग के सुझावों के माध्यम से कॉमर्शियल विभाग के इन पदों के मर्जर के फैसले के बारे में शीघ्र ही CAT (केंद्रीय प्रशासनिक अधिकरण) की अनुमति के मिलने के बाद रेलवे के इस फैसले को लागू कर दिया जाएगा.