हाल ही में रिलीज हुई फिल्म ‘गली बॉय’ का रैप सॉन्ग ‘अपना टाइम आएगा’ की तर्ज पर रेल मंत्री पीयूष गोयल ने अपने ट्विटर हैंडल पर रेलवे

का भी रैप सॉन्ग रिलीज किया है – तेरा

टाइम आएगा। मीडिया रपटों के मुताबिक

ट्विटर पर शेयर किए जाने के साथ ही यह गाना

सोशल मीडिया पर चर्चा में है। रेलवे के इस रैप का

मकसद ट्रेन में बिना टिकट यात्रा करने वाले यात्रियों को

कड़ी चेतावनी देना है।








इस गाने की बाकी लाइनें हैं – रुक जा तू लाइन में, टिकट की तलाश में, अंदाज देख टीसी का, आसमान भी सर उठाएगा। आएगा, तेरा टाइम आएगा। मेरे जैसा शाणा टीसी तुझे न मिल पाएगा। ये बहानों का जलवा मुझे न पिघलाएगा। जहां तक तेरा टिकट है तू वही तक जाएगा। ऐसी मेरी नजरें जिससे कोई न बच पाएगा। तेरा टाइम आएगा। इस विडियो के अंत में ‘बिना टिकट यात्रा न करें। टिकट खरीदने के लिए यूटीएम ऐप और एटीवीएम मशीन का उपयोग करें’ संदेश दिया गया है। सोशल मीडिया पर लोगों ने इसे ट्रोल करने की कोशिश की तो कुछ ने तारीफ भी की। एक यूजर ने लिखा- ट्रेन टाइम पर आएगी/ दूसरे यूजर ने लिखा – विंडो सीट पर बैठने का टाइम आते-आते मेरा स्टॉप आ जाता है।

IRCTC: रेलवे ने राम सेतु एक्सप्रेस स्पेशल टूरिस्ट ट्रेन शुरू की, इस तरह करें बुकिंग

अगर आप तमिलनाडु के मंदिर देखना चाहते हैं तो IRCTC ने आपकी सुविधा के लिए टूर पैकेज जारी किया है। इसका नाम ‘रामसेतु एक्सप्रेस-तमिलनाडु टैंपल टूर’ रखा गया है। इसके तहत यात्री श्रीरंगम, त्रिची, रामेश्वरम, मदुरई, तंजावुर और नवग्रह मंदिरों के दर्शन कराए जाएंगे। ये 4 दिन का टूर रहेगा। जो 28 फरवरी से शुरू होगा और 3 मार्च को खत्म होगा।




इसके तहत दूसरी श्रेणी का स्लीपर किराया, ट्रांसपोर्ट, रहने की सुविधा और शाकाहारी खाना मिलेगा। खाने में चाय, नाश्ता, लंच और डिनर शामिल होगा। ये टूर पैकेज आपको 4885 रुपए में मिलेगा। आप रामसेतु एक्सप्रेस यात्रा की बुकिंग IRCTC की वेबसाइट (https://www.irctctourism.com) के जरिए कर सकते हैं। इसके लिए IRCTC ने 9003140680 नंबर भी जारी किया है।




यात्रा के दौरान तमबरम, चेंगालपट्टू, टिंडिवनम, विलुपुरम और व्रिधाचलम स्टेशन से बोर्डिंग की जा सकेगी। ये टूर 3 रात और 4 दिन का रहेगा। इसमें 18 मंदिरों के दर्शन कर सकेंगे। भारतीय रेलवे देश के महत्वपूर्ण स्थानों के दर्शन के लिए लगातार नई ट्रेन चला रहा है।

इससे पहले रेलवे ने भारत और श्रीलंका में मंदिरों के दर्शन के लिए रामायण एक्सप्रेस चलाई थी। इसके अलावा महाराष्ट्र में धार्मिक स्थानों के लिए 7 दिन के टूर के लिए समानता एक्सप्रेस टूरिस्ट ट्रेन चलाई गई थी।