रेल मंत्री पीयूष गोयल ने अंतरिम बजट में रेलवे के लिए सर्वाधिक एक लाख 58 हजार करोड़ रुपये निवेश करने की घोषणा की। इसमें 64,587 करोड़ बजटीय सहायता शामिल है। इस रकम से यात्रियों को सेमी हाई स्पीड,मॉडर्न एसी-लोकल ट्रेन में तेज व सुरक्षित यात्रा का विश्वस्तरीय अनुभव मिलेगा।.








बजट में कोच, वैगन और इंजन के निर्माण के लिए रिकॉर्ड 64 % बढ़ोतरी करते हुए 6114.82 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। पिछले साल 3724.93 करोड़ रुपये दिए गए थे। अगले तीन वर्षों में 15000 कोच बनाए जाएंगे। इससे 150 से अधिक नई यात्री ट्रेन चलाई जा सकेंगी। 220 ट्रेन में अत्याधुनिक 884 दीनदयालु जनरल कोच लगाए जांएगे। दैनिक यात्रियों के लिए एसी-मेमू के 600 कोच बनेंगे।.




रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष विनोद कुमार यादव ने कहा कि छह हजार रेलवे स्टेशन पर वाई-फाई, सीसीटीवी कैमरे, ट्रेन में ऑनबोर्ड सफाई, खानपान सेवा को उत्कृष्ट बनाने की योजनाएं लागू करेंगे। 7000 किलोमीटर रेल ट्रैक की मरम्मत की जाएगी। मॉर्डन सिग्नल सिस्टम और टक्कर रोधी उपकरण लगाए जाएंगे।.

देश की सबसे तेज सेमी हाई स्पीड ट्रेन-18 की संख्या बढ़ाकर छह करने का प्रस्ताव है। इन्हें दिल्ली-मुंबई-कोलकाता-चेन्नई के बीच चलाया जाएगा। इन रेलगाड़ियों के चलने के बाद कुल सात ट्रेन-18 देश के प्रमुख शहरों के बीच चलाई जाएंगी।.




रेलवे में अगले दो साल में 3.80 लाख भर्तियां होंगी.