रेलवे के अधिकारी व कर्मचारियों को नये साल का तोहफा मिल गया है। अब प्रत्येक वर्ष जुलाई में मासिक तनख्वाह के साथ उनके अकाउंट में भत्ते के तौर पर अतिरिक्त रकम भी पहुंचेगी।

रेलवे के अधिकारी व कर्मचारियों को नये साल का तोहफा मिल गया है। अब प्रत्येक वर्ष जुलाई में मासिक तनख्वाह के साथ उनके अकाउंट में भत्ते के तौर पर अतिरिक्त रकम भी पहुंचेगी। यह व्यवस्था एक जुलाई 2017 से प्रभावी होगी।








आरपीएफ में ऑफिसर रैंक के नीचे के पदाधिकारी से लेकर ट्रैकमैन और अस्पताल के नर्स तक को मिलने वाले पोशाक, जूते और धुलाई भत्ता अब अलग-अलग नहीं मिलेंगे। इन तीनों को मिलाकर अब एकल भत्ता कर दिया गया है जो वार्षिक तौर पर मिलेगा। इसे लेकर रेलवे बोर्ड के उप निदेशक वेतन आयोग सप्तम जया कुमार जी ने आदेश जारी कर दिया है। नई व्यवस्था लागू करने के साथ ही रेलवे ने यह भी स्पष्ट कर दिया है कि जिन कर्मचारियों को वर्दी उपलब्ध कराई जाती थी, उन्हें अब यह सुविधा नहीं मिलेगी बल्कि भत्ता का लाभ मिलेगा। हालांकि ट्रैकमैन को मिलने वाले रेडियमयुक्त नारंगी जैकेट रेलवे ही मुहैया कराएगी।




महंगाई भत्ता बढ़ते ही 25 फीसद बढ़ेगा भत्ता कर्मचारियों को मिलने वाला वर्दी भत्ता महंगाई भत्ता के 50 फीसद बढ़ते ही 25 फीसद अधिक हो जाएगा। यानी सालाना मिलने वाली रकम 25 फीसद ज्यादा मिलेगी।

जानें आपको कितना मिलेगा भत्ता
रेलवे सुरक्षा बल और रेलवे सुरक्षा विशेष बल के अधिकारी – 20 हजार
स्टेशन मास्टर और रेलवे सुरक्षा बल के ऑफिसर रैंक के नीचे वाले पदाधिकारी – 10 हजार
रनिंग कर्मचारी, ट्रैकमैन, कैंटीन के कर्मचारी, कार चालक – 5 हजार
नर्स – 1800

जनसेवा एक्सप्रेस ट्रेन में बढ़ीं यात्री सुविधाएं, जानिए… रेल मंत्री की और क्या हैं योजनाएं

रेल यात्रियों को नए साल में कई तोहफे मिलने वाले हैं। भागलपुर से मुजफ्फरपुर जाने वाली जनसेवा एक्सप्रेस के पैसेंजर एसी थ्री कोच का मजा लेंगे। कजरा स्टेशन पर अप और डाउन में फरक्का एक्सप्रेस का ठहराव मिलेगा। वहीं, अभयपुर स्टेशन नए लुक में दिखेगा। स्टेशन पर नए भवन बनाने का निर्देश रेल मंत्री पीयूष गोयल ने दे दी है। जल्द ही इसका नोटिफिकेशन जारी कर दिया जाएगा।




दरअसल, भागलपुर से मुजफ्फरपुर जाने वाली जनसेवा एक्सप्रेस में दो स्लीपर के कोच और 10 साधारण कोच है। पूर्व बिहार को उत्तर बिहार से जोडऩे वाली इस महत्वपूर्ण ट्रेन में एसी कोच नहीं रहने की वजह से यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता था। इस कारण इसमें थ्री एसी का एक नई कोच लगाए जाएंगे।

इधर, कई अरसे से यहां फरक्का एक्सप्रेस का ठहराव कजरा दिए जाने की मांग चल रही थी। जेडयूआरसीसी के पूर्व सदस्य आशुतोष कुमार ने दो दिन पहले रेल भवन में रेल मंत्री से मिले। इस दौरान फरक्का एक्सप्रेस का कजरा में ठहराव, अभयपुर स्टेशन पर नए भवन और जनसेवा एक्सप्रेस में थ्री एसी का कोच लगाने की बात कही। रेल मंत्री ने इस पर सहमति जताते हुए पत्र पर हस्ताक्षर किए। रेलवे बोर्ड को निर्देश दिया गया है। बोर्ड जल्द ही इस दिशा में कार्रवाही करेगी।