7th Pay Commission, 7th CPC: 7वें वेतन आयोग सिस्टम के तहत, 18,000 मूल वेतन वाले केंद्रीय सरकारी कर्मचारियों को डीए के तौर पर 1620 रुपये मिलते हैं। केंद्रीय कर्मचारियों का वेतन पे मैट्रिक्स के आधार पर दिया जाता है।

7th Pay Commission: केंद्र सरकार अपने कर्मचारियों की सैलरी बढ़ाने के लिए लगातार कोशिश कर रही है। इसके लिए वह नए तरीके भी निकाल रही है। अपनी पुरानी मांगों के मुताबिक वेतन बढ़ोतरी नहीं होने से निराशा के बावजूद, केंद्र सरकार के कर्मचारियों को 7 वें सीपीसी के तहत एक अलग चैनल के जरिए वेतन बढ़ोतरी मिल रही है। यह नियमित आधार पर होने वाली महंगाई भत्ता (डीए) वृद्धि के माध्यम से मिल रही है।








इससे पहले, सरकार ने 7 वें वेतन आयोग को लागू करते समय डीए को शून्य (0) कर दिया था, लेकिन रोजमर्रा के जरूरी सामानों की लागत में निरंतर बढ़ोतरी के कारण उसे रिवाइज कर दिया गया है। कुछ मांगों को स्वीकार करने के बाद सरकार ने डीए को बहाल कर दिया। वर्तमान में, केंद्रीय और राज्य सरकार के कर्मचारियों का डीए 9% है। उन्हें डीए के आधार पर यह वेतन बढ़ोतरी मिलती है, जिसे हाल ही में 7 प्रतिशत से 9 प्रतिशत तक बढ़ा दिया गया था।




7 वें वेतन आयोग के डीए पर, अखिल भारतीय लेखा परीक्षा और लेखा संघ (सहायक महासचिव) के पूर्व सहायक महासचिव हरिशंकर तिवारी ने बताया कि डीए लागू करना केंद्र सरकार के कर्मचारियों के लिए अच्छी खबर है। अगली बार कर्मचारियों को डीए अगले साल 2019 के आसपास दिया जाएगा। यदि केंद्र वर्तमान में 2.57 गुना से ऊपर फिटमेंट बढ़ाकर वेतन बढ़ाता है, तो  बेहतर होगा। 7वें वेतन आयोग सिस्टम के तहत, 18,000 मूल वेतन वाले केंद्रीय सरकारी कर्मचारियों को डीए के तौर पर 1620 रुपये मिलते हैं। केंद्रीय कर्मचारियों का वेतन पे मैट्रिक्स के आधार पर दिया जाता है। उदाहरण के लिए, लेवल 1 के कर्मचारी को डीए के रूप में 1620 रुपये मिलते हैं, जो कि 18,000 सैलरी का 9 फीसदी है। जुलाई 2018 में, डीए में 2 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी।




आपको बता दें कि 2 फीसदी डीए बढ़ने के बाद लेवल 1 के कर्माचरियों की सैलरी में 360 रुपए, लेवल 2 के कर्माचरियों की सैलरी में 398 रुपए,  लेवल 3 के कर्माचरियों की सैलरी में 434 रुपए, लेवल 4 के कर्माचरियों की सैलरी में 510 रुपए, लेवल 5 के कर्माचरियों की सैलरी में 584रुपए, लेवल 6 के कर्माचरियों की सैलरी में 708 रुपए, लेवल 7 के कर्माचरियों की सैलरी में 898 रुपए, लेवल 8 के कर्माचरियों की सैलरी में 952 रुपए, लेवल 9 के कर्माचरियों की सैलरी में 1062 रुपए और लेवल 10 के कर्माचरियों की सैलरी में 1122 रुपए की बढ़ोतरी हो गई है।