त्योहारों से पहले बीसीसीएल, टाटा सेल, रेल सहित गैर सरकारी संस्थानों में काम करने वाले कर्मियों को मिलने वाले बोनस से धनबाद कोयलांचल के बाजार की चमक बढ़ने वाली है। केवल बीसीसीएल कर्मियों के मिलने वाले बोनस व बढ़े हुए एरियर की राशि से करीब चार सौ करोड़ की राशि बाजार में आएगी।








48 हजार से अधिक कोल कर्मचारियों की बल्ले-बल्ले है। अनुमान के मुताबिक बोनस का भुगतान होने पर पांच अरब रुपए से अधिक राशि बाजार में आएगी।

इस माह कोल कर्मियों के खाते में दसवें वेतन समझौते का बढ़ा हुआ एरियर की राशि, वेतन व बोनस की राशि मिलकर औसतन डेढ़ से दो लाख रुपया जमा हो रहा है। कारोबारियों की मानें तो विभिन्न संस्थानों में बोनस का भुगतान होने के बाद बाजार में त्यौहार की रौनक आएगी। बीसीसीएल कर्मचारियों के साथ डीवीसी, टाटा, रेलवे सेल कर्मचारियों को भी बोनस मिलेगा।







त्योहार से पहले रेलकर्मियों को भी बोनस का इंतजार है। धनबाद रेल मंडल में लगभग 25 हजार कर्मचारियों को बोनस का भुगतान होता है। इसके अलावा क्षेत्र के विभिन्न उद्योग धंधों में काम करने वाले मजदूरों को 8.33 फीसद के दर से राशि का भुगतान मिलता है