‘ रेल भवन नई दिल्ली में आहूत बैठक में होगा अंतिम निर्णय .

‘ एनएफआईआर और एआईआरएफ के महासचिव भी शामिल होंगे .

‘ सातवें वेतनमान में निर्धारित वेतन के आधार पर बोनस की उम्मीद.

रेलवे कर्मचारियों को इस बार दुर्गापूजा के बोनस पर 26 सितंबर को फैसला आएगा। इसके लिए रेल भवन नई दिल्ली में रेलवे बोर्ड और मान्यता प्राप्त यूनियन प्रतिनिधियों के साथ बैठक होगी। बैठक में एनएफआईआर और एआईआरएफ के महासचिव भी शामिल होंगे। बैठक में ही यह तय होगा कि इस बार रेलवे कर्मचारियों को कितना बोनस मिलेगा। .








अगर उत्पादन के आधार पर देखा जाए, तो वित्तीय वर्ष-17-18 में रेलवे को माल ढुलाई से 12695.43 करोड़ का राजस्व प्राप्त हुआ, जबकि यात्रियों के टिकट से 2362.23 करोड़ रुपए राजस्व प्राप्त हुआ है, जो पिछले वर्ष से बेहतर है। अगर वेतनमान के आधार देखा जाए, तो पिछली बार छठे वेतनमान के अनुसार न्यूनतम वेतन 7000 रुपए के आधार पर बोनस का निर्धारण हुआ था, जिसमें कर्मचारियों को 17 हजार 951 रुपए बोनस दिया गया था। अब सातवां वेतनमान लागू है, कर्मचारियों को 18000 रुपए वेतन मिलता है, इस आधार पर अगर वेतन का निर्धारण किया जाता है, तो कर्मचारियों इस बार 35902 रुपए बोनस मिलेगा।




बोकारो स्टेशन से जुड़े लगभग छह हजार से अधिक रेलवे कर्मचारी हैं। इन कर्मचारियों को अब 26 सितंबर को दिल्ली की बैठक का इंतजार है। पिछले वित्तीय वर्ष में छठे वेतन आयोग में निर्धारित न्यूनतम वेतन 7000 रुपए के आधार पर बोनस का निर्धारण हुआ था। इसलिए कर्मचारियों को 17 हजार 951 रुपए बोनस दिया गया था। अब कर्मचारियों को सातवें वेतन आयोग के अनुसार न्यूनतम वेतन 18000 रुपए दिया जा रहा है। ऐसे में कर्मचारियों को इस बार 35902 रुपए बोनस मिलने की उम्मीद है।.




26 की बैठक पर कर्मचारियों की नजर : दुर्गापूजा पर बोनस को लेकर रेलवे कर्मचारियों की नजर 26 सितंबर को नई दिल्ली में होने वाली रेलवे बोर्ड की अहम बैठक पर है। कर्मचारियों को उम्मीद है कि इस बार उन्हें सातवें वेतनमान आयोग में निर्धारित वेतन के आधार पर बोनस दिया जाएगा।.

‘ रेल भवन नई दिल्ली में आहूत बैठक में होगा अंतिम निर्णय .