15 अगस्त से भारतीय रेलवे में ट्रेनों का नया टाइम टेबल लागू होगा। एक साल से लगातार लेट चल रही ट्रेनों की चाल सुधारने के लिए रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कई घोषणाएं की हैं। देश के हर ट्रेन की टाइमिंग पर विचार चल रहा है। धनबाद से खुलने और यहां से गुजरने वाली ट्रेनों में भी फेरबदल पर माथापच्ची चल रही है। गुरुवार को नई दिल्ली में इंडियन रेलवे टाइम टेबल को-आर्डिनेशन कमेटी की बैठक हुई, जिसमें नए टाइम टेबल की रूप-रेखा पर चर्चा हुई।.








बैठक में भाग लेने के लिए पूर्व मध्य रेलवे के अधिकारी भी नई दिल्ली गए थे। बैठक में लिए गए निर्णयों के आधार पर शुक्रवार से नए टाइम-टेबल को अंतिम रूप देने में तेजी आएगी। बैठक में जीरो बेस टाइम टेबल बनाने के लिए मुख्य रूप से चर्चा हुई। ट्रेनों का समय पालन 95 फीसदी तक करने के लिए फार्मूला तैयार किया गया। पूर्व मध्य रेलवे मुख्यालय में पिछले कई दिनों से ट्रेनों के समय पालन के लिए नई टाइमिंग पर कसरत की जा रही है। धनबाद के अलावा मुगलसराय, दानापुर, समस्तीपुर व दानापुर रेल मंडल के प्रतिनिधि ट्रेनों की नई समय सारणी पर माथापच्ची कर रहे हैं। नई दिल्ली की बैठक से लौट कर ट्रैफिक विभाग के अधिकारी इन प्रतिनिधियों के साथ बैठक करेंगे।.




प्रीमियर ट्रेनों को साथ में चलाने पर हो रहा विचार: ट्रेनों के समय पालन को सख्ती से लागू करने के लिए प्रीमियर ट्रेनों को शाम के समय में एक स्लॉट में चलाने की योजना है। गुरुवार की बैठक में भी इस पर चर्चा हुई। धनबाद से गुजरने वाली प्रीमियर ट्रेनें अभी भी एक स्लॉट पर चल रही हैं। हावड़ा और सियालदह राजधानी के अलावा दूरंतो और युवा एक्सप्रेस भी आगे-पीछे चलती हैं। प्रीमियर ट्रेनों के पीछे मेल एक्सप्रेस और फिर पैसेंजर ट्रेन चलाने की योजना है। हालांकि अभी भी प्रीमियर ट्रेन गुजरने के बाद के ही ज्यादातर मेल-एक्सप्रेस ट्रेनों को चलाया जा रहा है। धनबाद स्टेशन पर सर्वाधिक अप की ट्रेनें रात नौ बजे यानी राजधानी एक्सप्रेस के बाद चलती हैं। नए टाइम टेबल में चंबल एक्सप्रेस और शिप्रा एक्सप्रेस की नई टाइमिंग पर भी मंथन हो रहा है। 15 अगस्त के बाद से शिप्रा एक्सप्रेस को सप्ताह में हर दिन चलाया जाना है।




धनबाद। मानसून के मद्देनजर रेलवे ने कमर कस ली है। गुरुवार को इस संबंध में रेल अधिकारियों की बैठक हुई। सीनियर डीइएन कोआर्डिशन संजय कुमार झा ने बैठक में बताया कि सभी रेलखंडों में मानसून पेट्रोलिंग शुरू हो गई है। धनबाद-गया रूट पर घाट सेक्शन गुरपा-गझंडी में विशेष तौर पर अभियान चलाया जा रहा है। साथ ही करैला रोड-शक्ति नगर रेलखंड पर मानसून पेट्रोलिंग की मॉनिटरिंग हो रही है। संवेदनशील पुलों का भी निरीक्षण कर वहां मोबाइल पेट्रोलिंग लगाई गई है। जल जमाव वाले पटरियों को चिन्हित कर वहां वैकल्पिक या ठोस इंतजाम किए गए हैं।