रेलवे बोर्ड ने सिग्नल ओवरशूट के लिए नए मानक निर्धारित कर दिए हैं। ओवरशूट के मामले में बर्खास्त चालक और सहायक चालक को रेलवे फिर से नौकरी देगा। इस निर्णय से देश के हजारों और मुरादाबाद रेल मंडल के 50 बर्खास्त चालकों को फिर से नौकरी मिलने की संभावना बढ़ गई है। 1वर्तमान में बिना सिग्नल के इंजन का एक पहिया अगर सिग्नल से आगे निकल जाता है तो रेल प्रशासन चालक और सहायक चालकों को बर्खास्त कर देता है। इसके अलावा उन्हें पेंशन आदि सुविधाओं से भी वंचित कर दिया जाता है।








रेलवे बोर्ड ने सिग्नल ओवरशूट के मामले में चालक और सहायक चालकों को राहत देने वाला आदेश जारी किया है।1रेलवे बोर्ड के अधिशासी निदेशक (ईएंडआर) विकास आर्य ने इस संबंध में पत्र जारी कर दिया है। इसमें कहा है कि अगर किसी चालक की चूक से बिना सिग्नल के ही ट्रेन 120 मीटर तक आगे निकल जाती है और इससे कोई बड़ी दुर्घटना नहीं होती है तो ऐसे में चालक की सेवा समाप्त नहीं की जाएगी। इसके एवज में उन्हें पदावनत कर एक पद नीचे भेज दिया जाएगा। मसलन चालक से सहायक चालक बना दिया जाएगा।




पत्र में यह भी कहा गया है कि इंजन में कोई खराबी हो या ब्रेक ठीक तरह से काम न कर रहा हो तो चालक लिखित रूप से ट्रेन चलाने से इन्कार कर दें। इंजन की खराबी या ब्रेक फेल होने की स्थिति में सिग्नल ओवरशूट करने पर पदावनत करने के साथ ही तीन से पांच साल तक वेतन वृद्धि और अन्य सुविधाएं मिलनी बंद हो जाएंगी। अधिशासी निदेशक ने कहा है कि सिग्नल ओवरशूट होने पर बर्खास्त न करके सेवानिवृत्त कर दिया जाए, जिससे चालक और सहायक चालक को नियमानुसार पेंशन आदि मिलता रहे।




लापरवाही साबित हो जाने पर ही चालक को बर्खास्त करें। अभी तक सिग्नल ओवरशूट के मामले में बर्खास्त चल रहे चालक और सहायक चालक को फिर से नौकरी देने की व्यवस्था करें। बर्खास्त चालक की उम्र अगर 60 साल से अधिक हो गई है तो पेंशन की सुविधा मुहैया कराएं।’>>120 मीटर तक सिग्नल ओवरशूट होना गंभीर बात नहीं 1’>>इंजन में खराबी होने पर चालक कर सकेंगे ट्रेन चलाने से इन्कार

रेल लाइन चटकने पर तीन ट्रेनें बीच रास्ते में रुकी रहीं

जागरण संवाददाता, मुरादाबाद : रेल मंडल में दो अलग-अलग स्थानों पर रेल लाइन चटक गई। इससे तीन ट्रेनें बीच रास्ते में रुकी रही। 1शनिवार सुबह 8.18 बजे महरौली के यार्ड में रेल लाइन चटक गई। कीमैन की सूचना पर ट्रेन संचालन बंद कर दिया और तकनीकी कमी रेल लाइन की स्थाई रूप से मरम्मत करने में जुट गए। सुबह 9.35 बजे लाइन की मरम्मत कर ट्रेन संचालन शुरू कर दिया। इससे नई दिल्ली जाने वाली श्रमजीवी एक्सप्रेस व इंटरसिटी एक्सप्रेस बीच रास्ते में रुकी रहेगी। मरम्मत के बाद इस लाइन से सामान्य गति से ट्रेन संचालन शुरू कर दिया। इसके बाद सुबह 9.45 बजे शहजाद नगर (रामपुर) के यार्ड में रेल लाइन चटक गई।

सूचना मिलते ही रेल संचालन बंद कर दिया। तकनीकी टीम ने सुबह 10.25 बजे अस्थाई रुप से लाइन की मरम्मत कर ट्रेनें धीमी चलना शुरू कर दिया। इससे गरीब नवाज एक्सप्रेस और एक मालगाड़ी बीच रास्ते में रुकी रही। 1महिला का पर्स चोरी : संपर्क क्रांति एक्सप्रेस से महिला का बैग चोरी हो गया है। लखनऊ निवासी रेवती चंदेल ने चलती ट्रेन में मुकदमा दर्ज कराया है। कहा कि वह लालकुंआ से दिल्ली जाने के लिए सम्पर्क क्रांति एक्सप्रेस के कोच संख्या डी नौ के सीट संख्या 40 सवार हुई थी। उसी समय अज्ञात बदमाश ने बैग चोरी कर लिया। जिसमें मोबाइल व 25 सौ रुपये थे। जीआरपी मुरादाबाद ने निल पर मुकदमा दर्ज कर जीआरपी काठगोदाम को भेज दिया है।

removed lp