रेलवे विभाग में ग्रुप डी में प्रमोशन का इंतजार कर रहे कर्मचारियों की उम्मीदों पर विभाग ने एक बार फिर पानी फेर दिया है। 20 नवंबर को होने वाली विभागीय परीक्षा टालने से कर्मियों को झटका लगा है। इस परीक्षा को लेकर रेलवे यूनियन और अफसरों में ठन गई है।

लखनऊ मंडल में ग्रुप सी के करीब 40 पोस्ट खाली है। परीक्षा में बैठने के लिए 400 रेल कर्मियों ने आवेदन किया था। इसमें प्रतापगढ़ के 15 से अधिक कर्मचारी है। इतने सारे लोग एक साथ परीक्षा में शामिल होंगे तो रेल का काम प्रभावित होगा। इसीलिए रेल परीक्षा कराने को फिलहाल तैयार नहीं है। हालांकि रेलवे की यूनियन परीक्षा को कराने के मूड में है।








उनका तर्क है कि काम प्रभावित होने के डर है तो रेलवे कई चरण में परीक्षा करा सकता है। यूनियन के नेताओं ने बताया कि रेलवे जानबूझकर कोटे के प्रमोशन में अडं़गा लगाए हुए है। यही वजह है कि ग्रुप डी के कर्मचारी सी में प्रमोट नहीं हो पा रहे हैं। जबकि एक दशक से अधिक का समय बीत गया। इस बार 40 पोस्ट के लिए 400 कर्मचारियों ने आवेदन कर रखा है।








यूनियन ने डीआरएम से मिल कर विभागीय परीक्षा कराने के लिए मांग पत्र सौंपने के साथ चेयरमैन व जीएम को भी अवगत कराया है। डीआरएम सतीश कुमार ने बताया कि विभागीय परीक्षा के बारे में विभाग के सीनियर डीपीओ से बात करने के बाद ही कुछ बताया जा सकता है।

grup-d-promotions-st