नई दिल्ली: दिवाली से पहले केंद्रीय कर्मचारियों के लिए केंद्र सरकार के पिटारे से एक खुशखबरी आई है। दरअसल, सातवें वेतन आयोग को लेकर नए अपडेट का इंतजार कर रहे केंद्रीय कर्मचारियों के लिए खुशखबर ये है कि 2018 के शुरुआत में ही उनकी सैलरी में बढ़ोतरी हो सकती है। बताया जा रहा है कि 2018 के जनवरी महीने में केंद्रीय कर्मचारियों को ये तोहफा दिया जा सकता है। इस संदर्भ में नेशनल अनामली कमेटी (एनएसी) इसी महीने एक मीटिंग कर सकता है, जिसके बाद ये तय हो जाएगा कि केंद्रीय कर्मचारियों की न्यूनतम बेसिक सैलरी में कितना इजाफा होगा।









हाल ही में न्यूनतम वेतन को 7 से किया था 18 हजार

आपको बता दें कि सरकार ने सातवें वेतन आयोग की सिफारिशों के मुताबिक कुछ महीने पहले ही केंद्रीय कर्मचारियों का न्यूनतम वेतन 7,000 रुपये से बढ़ाकर 18,000 रुपये कर दिया था। हालांकि फिटमेंट फैक्टर अगर बढ़ाकर तीन गुना हो जाता है तो न्यूनतम वेतन 21,000 रुपये महीने हो जाएगा।




कर्मचारी कर रहे हैं 26 हजार की मांग

बताया जा रहा है कि कुछ महीने पहले की गई बढ़ोतरी से केंद्रीय कर्मचारी खुश नहीं हैं और उनका कहना है कि हमारी मांग न्यूनतम वेतन 26,000 रुपये करने की थी, यह हमारी मांग से काफी कम है। अब नेशनल अनामली कमेटी न्यूनतम वेतन पर अक्टूबर में चर्चा करेगा और यूनियन केबिनट के सामने इसे पेश करने से पहले डिपार्टमेंट ऑफ एक्सपेंडेचर से स्वीकृति लेगा।




जनवरी 2018 से मिलेगा बढ़ा हुआ वेतन

हालांकि सरकार ने ये साफ कर दिया है कि वो वेतन तो बढ़ाएगी, लेकिन किसी को भी एरियर नहीं देगी। यह केन्द्रीय कर्मचारियों के लिए एक बड़ी दिक्कत की वजह है। उन्हें यह समझ नहीं आ रहा कि सरकार आखिर एरियर क्यों नहीं दे रही है। आपको बता दें कि सरकार 1 जनवरी 2018 से बढ़ा हुआ न्यूनतम वेतन देने वाली है। अगर सरकार एरियर दे देती है तो केन्द्रीय कर्मचारी बेसिक न्यूनतम वेतन 21,000 होने से भी खुश होंगे, लेकिन अगर सरकार एरियर नहीं देती है तो न्यूनतम वेतन 26,000 करने पर ही केन्द्रीय कर्मचारियों का बोझ कम होगा।

Source:- Patrika.com