बंगलों में लगे गैंगमैनों को लाइन पर भेजें रेल अफसर : लोहानी

रेलवे बोर्ड के नवनियुक्त चेयरमैन अश्विनी लोहानी ने रविवार को सभी महाप्रबंधकों व मंडल रेल प्रबंधकों को कड़े निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि सभी रेल अफसर अपने-अपने बंगलों में लगाए गए गैंगमैनों को जल्द से जल्द लाइन पर भेज दें। इसके साथ ही उन्होंने सभी मंडल रेल प्रबंधकों को 10 सितंबर तक दौरा कर मंडल की पटरियों, सिग्नल, पॉइंट्स, ऑपरेशन केबिनों के निरीक्षण का काम पूरा करने के निर्देश दिए हैं।









रेलवे में अंग्रेजों के समय से ही इंजीनियरिंग विभाग के बड़े अफसरों से लेकर रेल पथ निरीक्षक तक अपने आवासों में कई-कई गैंगमैनों से काम लेते रहे हैं। उनकी ड्यूटी पटरियों के निरीक्षण में दिखाई जाती है जबकि हकीकत में वह अफसरों के घरों की चाकरी करते हैं। यह बात रेलवे बोर्ड के नए चेयरमैन को भलीभांति पता है। उन्होंने कहा कि अगर अगले महीने तक स्थिति नहीं सुधरी तो एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी के अलावा अफसरों के बंगलों पर लगे अन्य कर्मचारियों का पैसा उनके वेतन से काटा जायेगा।



चेयरमैन ने कहा है कि रेल अफसर रेलवे अस्पतालों व ऑफिसर्स रेस्ट हाउसों की स्थिति में सुधार लाने के लिए ऐक्शन प्लान बनाएं। रेस्ट हाउस ठीक न होने के बहाने ही अफसर सैलून लेकर चलते हैं। अब उनकी स्थिति मे सुधार किए जाने के बाद शायद बड़े अफसर उनमें रुकने लगें।





महिला समिति के कार्यक्रमों पर तीन महीने की रोक

चेयरमैन ने सभी क्षेत्रीय रेलवे व मंडल स्तर की महिला समितियों के कार्यक्रमों पर तीन महीने के लिए रोक लगा दी है। चेयरमैन अश्विनी लोहानी ने साफ कह दिया है कि अब जीएम के निरीक्षण के बाद दी जाने वाली पार्टी नहीं होगी।• रेलवे बोर्ड के चेयरमैन ने रविवार को पत्र भेजकर महाप्रबंधकों को दिए निर्देशजीएम की पार्टियां व महिला समिति के कार्यक्रमों पर भी लगाई रोक

रेलवे में सुधार के लिए कुछ कड़े कदम उठाने जरूरी हैं। रेलवे अफसरों के टीम वर्क व उनकी कड़ी मेहनत के चलते जल्द ही सकारात्मक परिणाम दिखाई देंगे।- अश्विनी लोहानी, चेयरमैन

78619