केंद्र ने अत्याधुनिक सेमी हाई स्पीड ट्रेन सेट खरीदने की योजना को ठंडे बस्ते में डालते हुए इसका निर्माण देश में कराने का फैसला किया है। चेन्नई स्थित इंटिग्रल कोच फैक्टरी में ट्रेन-18 (ट्रेन सेट) का प्रोटो टाइप बनाया जा रहा है। जबकि इसका उत्पादन पश्चिम बंगाल स्थित कांचरापाड़ा कोच फैक्टरी में किया जाएगा। इस फैक्टरी में ट्रेन सेट और मेट्रो कोच, दोनों का उत्पादन किया जाएगा।








रेल मंत्रलय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, मेक इन इंडिया के तहत सरकार की यह सबसे बड़ी परियोजना है। कांचरापाड़ा कोच फैक्टरी में 5000 ट्रेन सेट कोच बनाए जाएंगे। इस फैक्टरी में मेट्रो के कोच भी बनाये जाएंगे। उम्मीद है कि साल 2018 में यह ट्रेन सेट पटरियों पर दौड़ने लगेगी।









अधिकारी ने बताया कि ट्रेन सेट चरणबद्ध तरीके से दो प्रोटो टाइप 16 कोच और 20 कोच में बनाई जाएगी। इसमें एक राजधानी और दूसरी शताब्दी की तर्ज पर ट्रेन सेट होगी। कम दूरी के लिए ट्रेन सेट शताब्दी रूट पर चलाई जाएगी जबकि लंबी दूरी के लिए राजधानी रूट पर चलेगी।
train set