आयकर रिटर्न फॉर्म 2 व 5 बना और सरल

आईटीआर 2
फार्म देखने में तो काफी बड़ा हो गया है, लेकिन इसमें काफी चीजें लिंक्ड हैं
पहले के फार्म में चीजें ठीक से परिभाषित नहीं थी, इसे सुधारा गया है
आय कर विभाग ने असेसमेंट वर्ष 2014-15 के लिए आईटीआर एक (सहज), आईटीआर 4 एस (सुगम) के साथ-साथ आईटीआर 2 और 5 की संशोधित यूटिलिटी को विभागीय वेबसाइट पर अपलोड कर दिया है। सीबीडीटी का कहना है कि इस बार आईटीआर 2 और आईटीआर 5 में काफी परिवर्तन किया गया है, जिससे विभाग के साथ-साथ रिटर्न दाखिल करने वालों को भी सहूलियत होगी।
इस बार सबसे ज्यादा परिवर्तन आईटीआर 2 में हुआ है। फार्म को स्ट्रीम लाइन करने के लिए ऐसा किया गया है। यह फार्म देखने में तो काफी बड़ा हो गया है, लेकिन इसमें काफी चीजें लिंक्ड हैं।
इसका मतलब है कि यदि एक जगह आपने जानकारी भर दी है तो कुछ और वह सूचना अपने आप भर जाएगी। पहले के फार्म में चीजें ठीक से परिभाषित नहीं थी, इसलिए इस बार उसे ठीक कर दिया गया है। साथ ही, फार्म में विदेशों में किये गए टैक्स के्रडिट को भी जगह दी गई है।  आय कर कानून में अन्य स्रोत में काफी चीजें शामिल की गई हैं, जिनमें कैपिटल गेन और लॉटरी, जुआ आदि भी शामिल है।
आईटीआर 5 में यदि प्रोफेशनल आमदनी 25 लाख रुपये और कारोबारी आमदनी एक करोड़ रुपये से ज्यादा है तो किसी चार्टर्ड अकाउंटेंट से सेक्शन 44 एबी के तहत ऑडिट सर्टिफिकेट भी लेना होगा। आयकर विभाग ने इसी वर्ष से आईटीआर 2 और 5 को ऑनलाइन भरना अनिवार्य कर दिया है।