हादसे से बचाने वाले दो ट्रैक मैन पुरस्कृत

दिल्ली में मंगलवार को नवंबर और दिसंबर में ट्रेन दुर्घटनाओं को रोकने व निष्ठापूर्वक ड्यूटी करने वाले कर्मचारियों को एक कार्यक्रम के दौरान ित किया गया। इसमें उत्तर रेलवे के पांच मंडलों के नौ कर्मचारी भी शामिल थे। इसमें मुरादाबाद रेल मंडल दो ट्रैक मैन भी हैं। 1मुरादाबाद-गाजियाबाद रेल मार्ग पर लोदीपुर स्टेशन है, यहां तैनात टैक मैन इमरान व इरशाद लोदीपुर-हकीमपुर के बीच 26 नवंबर की रात रेलवे लाइन की पेट्रोलिंग कर रहे थे। मुरादाबाद से गाजियाबाद की ओर जाने वाली एसी एक्सप्रेस अप लाइन से तड़के 3.30 बजे गुजरने वाली थी।








इसी दौरान दोनों ने मोबाइल की रोशनी में रेल लाइन को टूटा हुआ देखा। इसके बाद उन्होंने इसकी सूचना लोदीपुर स्टेशन मास्टर को दी। इसके बाद ट्रेन को रोक दिया गया। आम तौर पर तड़के नींद की वजह से कर्मचारी आराम करने लगते हैं। 1महाप्रबंधक विश्वेश चौबे ने दोनों को उत्कृष्ट सेवा के लिए नामित किया।




दिल्ली, फिरोजपुर और लखनऊ रेल मंडल के कर्मी भी पुरस्कृत हुए। मंडल रेल प्रबंधक अजय कुमार सिंघल ने दोनों ट्रैक मैन को बधाई दी है।’>>जीएम ने विशेष समारोह में लोदीपुर के दो ट्रैक मैन को दिया पुरस्कार 1’>>तड़के टूटी रेल लाइन पर एसी एक्सप्रेस को दौड़ने से बचाया थादो स्थानों पर टूटी रेलवे लाइन1मुरादाबाद : हरथला समेत दो स्थानों पर रेलवे लाइनें टूट गईं। ट्रैक मैन की सूचना पर ट्रेन संचालन बंद कर दिया गया। एक घंटे के बाद लाइन की अस्थायी मरम्मत के बाद धीमी गति से ट्रेन संचालन शुरू कराया गया।




मंगलवार की सुबह 7.30 बजे ट्रैक मैन हरथला से अगवानपुर की ओर लाइन की निरीक्षण कर रहा था। इस दौरान यार्ड के मुख्य रेल मार्ग पर लाइन टूटी हुई मिली। कंट्रोल रूम ने मुख्य रेल मार्ग पर ट्रेन संचालन बंद करा दिया और लूप लाइन से ट्रेनों का संचालन शुरू करा दिया। सुबह 8.15 बजे तकनीकी टीम ने लाइन की अस्थायी मरम्मत की। इसी तरह से सुबह 8.25 बजे टोडरपुर-आंझी के बीच रेल लाइन टूटी मिली। सूचना मिलते ही ट्रेन संचालन बंद करा दिया गया।