बिना इंजन 20 किमी दौड़ी पुरी-अहमदाबाद एक्सप्रेस

पुरी से अहमदाबाद जा रही एक्सप्रेस ट्रेन ओडिशा के टिटलागढ़ रेलवे स्टेशन से बिना इंजन ही रवाना हो गई। यहां से दस मिनट का सफर तय कर 20 किमी दूर केसिंगा स्टेशन पार कर गई। थोड़ा आगे जाकर थमी और फिर रिवर्स होकर रुकी। 1यह कोई चमत्कार नहीं था : दरअसल, शनिवार की रात 10 बजकर 45 मिनट पर टिटलागढ़ स्टेशन पर पुरी- अहमदाबाद एक्सप्रेस पहुंची, जहां इसका इंजन बदला जा रहा था।








पूरा रैक इंजन से जैसे ही अलग हुआ, वैसे ही ढलान पाकर ट्रेन सरकने लगी। देखते- देखते बिना इंजन के इस ट्रेन ने रफ्तार पकड़ ली और 20 किमी दूर केसिंगा स्टेशन से आगे जाकर आउटर पर जाकर थमी। इसके बाद फिर वापस कुछ दूरी तक चलकर रुक गई। यह ट्रेन केसिंगा की ओर जाती भी नहीं है। संयोगवश इस ट्रैक पर कोई मालगाड़ी या पैसेंजर ट्रेन नहीं आ रही थी, नहीं तो बहुत बड़ा हादसा हो सकता था।




केसिंगा स्टेशन से बिना इंजन की धड़धड़ाती हुई यह ट्रेन निकली तो वहां प्लेटफार्म पर खड़े लोगों के भी होश उड़ गए। ट्रेन ट्रैक पर दौड़ती रही और केसिंगा स्टेशन के आगे जाकर रुकी, मगर वापस फिर उसी रफ्तार से रिवर्स हुई और दोबारा केसिंगा रेलवे स्टेशन से गुजर गई, तब रेलवे स्टेशन मास्टर को इसकी जानकारी मिली। केसिंगा से टिटलागढ की ओर चढ़ान पर यह ट्रेन थम गई।

चीख-चिल्ला रहे थे यात्री : जब यह ट्रेन बिना इंजन के दोबारा केसिंगा स्टेशन से गुजरी तब एक यात्री ने इसका वीडियो बना लिया। इस यात्री ने फोन पर दैनिक जागरण के सहयोगी प्रकाशन नईदुनिया को बताया कि ट्रेन में सवार यात्री चीख रहे थे। चिल्ला रहे थे। केसिंगा स्टेशन पर खड़े कुछ यात्रियों ने आवाज देकर ट्रेन के यात्रियों को चेन पुलिंग करने को भी कहा, मगर शोरशराबे में शायद उन्हें सुनाई नहीं दिया।




बहरहाल कोई हादसा नहीं हुआ। सूचना मिलने पर रेलवे के कर्मचारियों ने एक्सप्रेस के कोच को इंजन जोड़कर वापस टिटलागढ़ पहुंचाया। इसके बाद उसे संबलपुर वाया रायपुर के लिए रवाना किया गया। सही सलामत ट्रेन छूटने पर यात्रियों ने राहत की सांस ली।