Indian Railways special trains list: इन ट्रेनों में केवल कन्‍फर्म/RAC टिकट वाले यात्रियों को ही बैठने दिया जाएगा। यात्रियों को कम से कम 90 मिनट पहले स्‍टेशन पहुंचने की सलाह दी गई है।

भारतीय रेलवे (Indian Railways) ने अनलॉक-4 के तहत आज से 86 और स्‍पेशल ट्रेनें (86 special trains) चलाने का फैसला किया है। इन ट्रेनों की खातिर बुकिंग विंडो 10 सितंबर से खोली गई थी। रेलवे इसके अलावा 12 मई से 30 स्‍पेशल राजधानी ट्रेनें और 1 जून से 200 स्‍पेशल मेल/एक्‍सप्रेस ट्रेनें चला रहा है। इन 86 ट्रेनों के चलने से करीब आ रहे फेस्टिव सीजन में यात्रियों को बड़ी स‍हूलियत होगी। रेलवे ने कहा है कि वह चरणबद्ध तरीके से हर रूट पर ट्रेनें शुरू कर रहा है। रेलवे ने आज से जो ट्रेनें शुरू की हैं, उनमें रिजर्वेशन के बिना स्‍टेशन पर एंट्री नहीं मिलेगी। रेलवे ने कहा है कि यात्री कम से कम 90 मिनट स्‍टेशन पहुंचे ताकि कोरोना प्रोटोकॉल पूरा किया जा सके। सिर्फ एसिम्‍प्‍टोमेटिक यात्रियों को ही ट्रेन में चढ़ने दिया जाएगा। आइए देखते हैं रेलवे ने कहां से कहां तक के लिए ट्रेनें चलाई हैं।

रेलवे ने नई ट्रेनें चलाते समय कोशिश की है कि उन रूट्स को टच किया जा सके जहां अभी तक ट्रेनें नहीं जा रही हैं। इसके अलावा ज्‍यादा पैसेंजर लोड वाले रूट्स पर भी ट्रेनें बढ़ाई गई हैं।

आज से दौड़ेंगे शताब्‍दी और हमसफर एक्‍सप्रेस

इन ट्रेनों में ‘हमसफर’ एक्‍सप्रेस के अलावा श्रमिक स्‍पेशल और ‘वंदे भारत एक्‍सप्रेस’ ट्रेनें भी शामिल हैं। रेलवे ने कुछ शताब्‍दी एक्‍सप्रेस भी आज से चलाना शुरू कर दिया है।

मास्‍क और सोशल डिस्‍टेंसिंग सबसे जरूरी

स्‍टेशन, ट्रेन पर चढ़ते वक्‍त और यात्रा के दौरान सोशल डिस्‍टेंसिंग के नियम का पालन जरूरी होगा। हर समय मास्‍क पहने रहना होगा। यात्रा के दौरान कंबल, चादर, पर्दे रेलवे की ओर से उपलब्‍ध नहीं कराए जाएंगे। विस्‍तार से गाइडलाइंस देखें

खाना-पानी लेकर निकलें लंबी दूरी के यात्री

इन ट्रेनों के किराए में कैटरिंग चार्जेस शामिल नहीं हैं। रेलवे ने यात्रियों को कम सामान लेकर यात्रा करने तथा अपना खाना/पानी साथ लेकर करने को कहा है। एक बार अपनी गंतव्‍य स्‍टेशन पर पहुंचने के बाद यात्रियों को उस राज्‍य के कोविड प्रोटोकॉल्‍स का पालन करना होगा।

दिल्‍ली को बाकी राज्‍यों से जोड़ने की कोशिश

जो 40 जोड़ी ट्रेनें शुरू होने वाली हैं, उनमें से 12 जोड़ी ट्रेनें ऐसी होंगी, जो दिल्ली के अलग-अलग स्टेशनों से चलेंगी या वहां पर आकर जिनकी यात्रा समाप्त होंगी। 4 जोड़ी ट्रेनें ऐसी हैं, जो दिल्ली से होकर गुजरेंगी। यानी जो 80 ट्रेनें चलेंगी, उनमें से 32 ट्रेनें ऐसी होंगी, जिनमें यात्री दिल्ली से अपनी यात्रा शुरू या खत्म कर सकेंगे।