Issue Of Pension For Retired DU Teachers Raised In Rajya Sabha ...

कोरोना संक्रमण के चलते मार्च के अंत में सभी कार्यालय बंद हो गए थे। ऐसे में जनवरी के बाद सेवानिवृत्त हुए बहुत से रेलवे कर्मचारियों का भुगतान रुक गया था। उनका पेंशन पेमेंट ऑर्डर तैयार नहीं हो सका था। इसकी शिकायत कर्मचारियों द्वारा रेलवे बोर्ड से की थी। अब रेल सर्विस सीपीसी-7 पीपीओ एप तैयार किया गया है। इस एप को डाउनलोड कर सेवानिवृत्त कर्मचारी अपना सेवा नंबर डालकर सारी जानकारी घर बैठे प्राप्त कर सकेंगे। इसमें यह भी पता चल जाएगा कि उनकी फाइल कहां पर रुकी हुई है। इस एप के जरिए वो अपनी शिकायत भी दर्ज करा सकते हैं। 

रिटायर रेल कर्मियों को घर बैठे पेंशन पेमेंट आर्डर (पीपीओ) आदि उपलब्ध कराने के लिए नया प्रावधान किया गया है। इसके तहत एक एप तैयार किया गया है। इससे सेवानिवृत्‍त रेलवे कर्मचारी को कहां फाइल रुकी हुई है, कब तक भुगतान होगा, इसकी जानकारी आसानी से मिल सकेगी। कोरोना संक्रमण ने सभी के लिए परेशान खड़ी कर दी है। रेलवे के रिटायर कर्मचारी को शेष राशि का भुगतान नहीं हो पा रहा है। पीपीओ तैयार नहीं होने से पेंशन नहीं मिल पा रही है। रिटायर हो जाने के बाद कर्मचारी अपने घर चले गए हैं।

कुछ कर्मचारी दूसरे प्रदेश के रहने वाले हैं, वह अपने प्रदेश चले गए हैं। ऐसे स्थिति में रेलवे कर्मियों के सामने आर्थिक संकट उत्पन्न हो गया है। देश भर के रिटायर कर्मियों ने इसकी शिकायत रेलवे बोर्ड से की। पहली जून से अनलॉक शुरू होने के बाद रेलवे प्रशासन ने सेवानिवृत्त कर्मियों के बकाया राशि का आनलाइन भुगतान शुरू कर दिया है। जिससे सेवानिवृत कर्मियों को राहत मिली है। अब पीपीओ के लिए डीआरएम आफिस आने की आवश्यकता नहीं होगी, इसके लिए रेलवे बोर्ड ने एक एप बनाया है।

रेलवे बोर्ड के प्रधान अधिशासी निदेशक (लेखा) अंजली गोयल ने छह अगस्त को पत्र जारी किया। इसमें कहा है कि रिटायर रेलवे कर्मचारी को पेंशन से संबंधित कार्य के लिए डीआरएम आफिस या अन्य आफिस जाने की आवश्यकता नहीं होगी। इसके लिए एप तैयार किया गया। जिसका नाम रेल सर्विस-सीपीसी-7-पीपीओ है। रिटायर रेलवे कर्मचारी मोबाइल पर एप डाउनलोड कर सकते हैं। एप में अपनी सेवा का नंबर डालकर सारी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। पीपीओ से फेमिली पेंशन की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। प्रवर मंडल कार्मिक अधिकारी विपुल गोयल ने बताया कि अनलॉक शुरू होते ही पेंशन से संबंधित फाइल का निपटारा करना शुरू कर दिया गया है। राशि ई बैंकिंग के माध्यम से पेंशनर के बैंक खाते में भेजी जा रही है। एप की जानकारी पेंशनधारक को भेजी जा रही है। उसके माध्यम से पीपीओ डाउन लोड करने को कहा गया है।