रेल मंत्री 14 जुलाई को रेलवे यूनियनों के नेताओं से होंगे मुखातिब, अपरेंटिस को मिलेगी नौकरी

| July 11, 2020
Railway minister will meet the leaders of railway unions on July 14

रेल मंत्री पीयूष गोयल 14 जुलाई को रेल यूनियन के तमाम नेताओं से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संवाद करेंगे। ऑल इंडिया रेलवे मेंस फेडरेशन के महामंत्री शिव गोपाल मिश्रा ने गुरुवार को रेल भवन में रेलवे बोर्ड के चेयरमैन (सीआरबी) विनोद कुमार यादव से मुलाकात के बाद एक संवाददाता सम्मेलन में यह जानकारी दी।

उन्होंने कहा कि बैठक में 109 रेल मार्गों पर 151 निजी रेलगाड़ियों के संचालन, रेलवे में नौकरियों की समीक्षा संबंधी 2 जुलाई के रेलवे बोर्ड के पत्र, रेलवे के अप्रेंटिस, स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति पदोन्नति सुपरवाइजर को राजपत्रित कैडर दिलाने सहित अनेक मुद्दों पर सकारात्मक चर्चा हुई। 

 उन्होंने कहा कि हम किसी भी परिस्थिति में भारतीय रेलवे का निजीकरण नहीं होंने देंगे। रेलवे का निजीकरण किसी समस्या का समाधान नहीं है। तकनीक में सुधार और मौजूदा कर्मचारियों की दक्षता बढ़ा कर भी रेलवे की हालत सुधारी जा सकती है।

 मिश्रा ने नौकरियों की समीक्षा के संबंध में बताया कि सीआरबी ने उन्हें आश्वासन दिया है कि कोई भी जॉब सरेंडर नहीं होगी। रेलवे के अप्रेंटिस के  मामले में उन्होंने कहा कि रेलवे में 3 साल का प्रशिक्षण ले चुके अप्रेंटिस को परीक्षा कराने पर सहमति बन गई है परीक्षा पास करने वालों को नौकरी के लिए अब धक्के नहीं खाने पड़ेंगे। 

Category: Uncategorized

About the Author ()

Comments are closed.