कोरोना काल में रेलवे ने अपने लाखों कर्मचारियों को दिया यह तोहफा

| July 10, 2020
लाखों कर्मचारियों को रेलवे का तोहफा

कोरोना वायरस के दौरान आर्थिक मंदी से गुजर रहे रेलवे ने एक बड़ा निर्णय लेते हुए देश के 15 लाख सरकारी कर्मचारियों के लिए बड़ा निर्णय लिया है। रेलवे के इस निर्णय से रतलाम रेल मंडल सहित देशभर में प्रसन्नता है। रेल कर्मचारियों को वार्षिक इंक्रिमेंट देने की घोषणा हो गई है। इससे रतलाम रेल मंडल में 13 हजार कर्मचारियों को लाभ होगा।

कोरोना वायरस के दौरान आर्थिक मंदी से गुजर रहे रेलवे ने एक बड़ा निर्णय लेते हुए देश के 15 लाख कर्मचारियों के लिए बड़ा निर्णय लिया है। रेलवे के इस निर्णय से रतलाम रेल मंडल सहित देशभर में प्रसन्नता है। रेल कर्मचारियों को वार्षिक इंक्रिमेंट देने की घोषणा हो गई है। इससे रतलाम रेल मंडल में 13 हजार कर्मचारियों को लाभ होगा।

कई भत्ते किए गए बंद कोरोना वायरस के बाद से जब से लॉकडाउन लगा व यात्री ट्रेन बंद हुई इसके बाद से रेलवे में कई प्रकार के भत्ते बंद कर दिए गए थे। इतना ही नहीं गार्ड से लेकर रनिंग कर्मचारी व इनसे जुड़े संगठन लंबे समय से इसकी मांग कर रहे थे। अब जाकर रेलवे ने इस बारे में निर्णय लेतु हुए आदेश जारी कर दिए है कि वार्षिक इंक्रिमेंट सभी रेल कर्मचारियों को दिया जाएगा।

जरूरी शर्त 180 दिन की इस इंक्रिमेंट को पाना इतना आसान भी नहीं है। इसके लिए रेलवे की कई शर्ते लगाई गई है, लेकिन प्रमुख रुप से जो शर्त इसमे शामिल है उसमे रेल कर्मचारी को 180 दिन की रेलसेवा होना जरूरी है। इस शर्त को पूरी किए बगैर कि सी रेल कर्मचारी को इंक्रिमेंट नहीं मिलेगा। असल में इस इंक्रिमेंट पर भी पूर्व में रेलवे में रोक लगा दी गई थी, लेकिन अब इसको देने का निर्णय ले लिया गया है।

हमारे संगठन के प्रयास काम आए जब रेल कर्मचारियों को इंक्रिमेंट देने पर रोक लगी थी तब सबसे पहले हमारे संगठन ने ही इसका ताकत से विरोध किया था। रतलाम रेल मंडल सहित देशभर में हुए इस विरोध के चलते ही रेलवे को इंक्रिमेंट देने को बाध्य होना पड़ा है।
– नरेंद्रसिंह सोलंकी, सहायक मंडल मंत्री, वेस्टर्न रेलवे एम्प्लाइज यूनियन

Tags: , , , , , , , , , , , , , ,

Category: News

About the Author ()

Comments are closed.