रेलवे इन कर्मचारियों के कैडर मर्ज करने का तैयार कर रहा खाका, हो सकते हैं ये बड़े बदलाव

| July 6, 2020
Protective gear, modern tools for railway staff - The Hindu

कुल मिलाकर रेलवे के अनेक कैडर के कर्मचारियों को समायोजित करने का प्लान उच्चस्तर पर चल रहा है। इसी उद्देश्य से रेलवे बोर्ड ने कोरोना काल में 8 मई को अफसरों की एक कमेटी को यह जिम्मेदारी सौंपी है। उसी के तहत सभी रेलवे जोन को परिपत्र भेजा गया है।

रेलवे अब अपने अनेक विभागों के कर्मचारियों को मल्टी स्किल यानी कि बहुकौशल बनाने का तरीका अपनाने जा रहा है। ताकि किसी भी कर्मचारी से कहीं भी काम लिया जा सके। इसके लिए विभागवार खाका तैयार करने की प्रक्रिया रायपुर रेल डिवीजन में चल रही है। अभी कोरोना काल में वरिष्ठ टिकट निरीक्षकों को पार्सल और गुड्स साइडिंग में लगेज बुक कराने के लिए ड्यूटी लगाने का फरमान जारी किया है।

आगे चलकर कर्मचारियों को किसी भी रेलवे सेक्शन में पदस्थ कर दिया जाएगा। अफसरों का मानना है कि मल्टी स्किल प्रशिक्षण देने के बाद फिर कोई कर्मचारी अपने मूल पदस्थापना विभाग से रेलवे के अन्य किसी शाखा में काम करने से मना नहीं कर सकेगा।

रेलवे सूत्रों के अनुसार रेलवे बोर्ड ने अफसरों की एक कमेटी गठित की है, जो कि रेलकर्मियों को बहुकौशल बनाकर उन्हें रेलवे के किसी भी विभाग चाहे इंजीनियरिंग, ऑपरेटिंग हो या फिर लेखा शाखा या कामर्शिलय विभाग। मर्ज किया जा सकेगा। इसके लिए कर्मचारियों को ऐसी ट्रेनिंग दी जाएगी, ताकि उन्हें काम करने में दिक्कत न हो।

सूत्रों का कहना है कि कुल मिलाकर रेलवे के अनेक कैडर के कर्मचारियों को समायोजित करने का प्लान उच्चस्तर पर चल रहा है। इसी उद्देश्य से रेलवे बोर्ड ने कोरोना काल में 8 मई को अफसरों की एक कमेटी को यह जिम्मेदारी सौंपी है। उसी के तहत सभी रेलवे जोन को परिपत्र भेजा गया है। इसी के तहत रेल डिवीजन में विभागवार कर्मचारियों को सूचीबद्ध करने की प्रक्रिया चल रही है। लेकिन डिवीजन के आला अफसर खुलकर नहीं बोल रहे हैं।

इन विभागों के कर्मचारी पहले होंगे मर्ज रेलवे सूत्रों के अनुसार अभी मुख्य रूप से इंजीनिरिंग विभाग में ट्रैकमैन कारपेंटर, मिस्त्री और ऑपरेटिंग विभाग में गेटमैन, लेखा शाखा और कमर्शियल विभाग के टिकट निरीक्षक, रिजर्वेशन बुकिंग क्लर्क, पूछताछ काउंटर क्लर्क के साथ ही ट्रैफिक, कमर्शियल इंस्पेक्टर और स्टाफ एंड वेलफेयर इंस्पेक्टरों को मर्ज किया जाना है। इसी तरह स्टेशन मास्टर और सिग्नल विभाग के सीनियर सेक्शन क्लर्क को मर्ज कर दिया जाएगा।

Category: Uncategorized

About the Author ()

Comments are closed.