सातवाँ वेतन आयोग – केंद्रीय कर्मचारियों के लटके हुए प्रमोशन कब होंगे, केंद्रीय मंत्री ने दी जानकारी

| May 26, 2020
Promotional Analysis :: Types Of Promotions In Retail - Fibre2Fashion

कार्मिक राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि लॉकडाउन हटने के बाद प्रमोशन की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। यही नहीं जनवरी के महीने में इस साल 400 प्रमोशन के आदेश पहले ही जारी किए जा चुके हैं।केंद्र सरकार अपने कर्मचारियों के हितों के प्रतिबद्ध है और उसे लेकर हमेशा चिंतित रहती है और पूरी संवेदनशीलता के साथ काम करती है। कोरोना के इस संकट के दौर में भी सरकार अपने कर्मचारियों के साथ है और लॉकडाउन हटने के बाद प्रमोशन समेत तमाम अन्य फैसले लिए जाएंगे।

कार्मिक राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह ने केंद्रीय कर्मचारियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग पर बातचीत के दौरान यह भरोसा दिलाया। उन्होंने कहा कि लॉकडाउन हटने के बाद प्रमोशन की प्रक्रिया शुरू की जाएगी। यही नहीं जनवरी के महीने में इस साल 400 प्रमोशन के आदेश पहले ही जारी किए जा चुके हैं।

उन्होंने कोरोना के इस संकट के दौर में कर्मचारियों की कर्मठता की सराहना करते हुए कहा कि इस दौरान दफ्तरों में सिर्फ 33 फीसदी वर्कफोर्स के साथ ही काम हो रहा है। इससे हमारे वर्क फ्रेंडली माहौल का पता चलता है। डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा कि मंत्रालय के सीनियर अधिकारी पूरी तत्परता से काम कर रहे हैं। यह देखने में आया है कि कोरोना के इस संकट के बीच भी तमाम विभागों में कामकाज में तेजी बनी हुई है और किसी भी तरह से वर्क कल्चर पर विपरीत प्रभाव नहीं पड़ा है।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिग पर बात करते हुए कहा कि इस चर्चा का मुख्य मकसद आप लोगों और आपके परिवारों के कुशलक्षेम के बारे में जानना है। उन्होंने कहा कि वर्क फ्रॉम होम अब न्यू नॉर्मल जैसा हो गया है। बता दें कि कोरोना के इस संकट के मद्देनजर सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों के बढ़े हुए महंगाई भत्ते को रोक दिया है। इसके अलावा जून, 2021 तक डीए में इजाफे पर भी रोक लगा दी है।

फिलहाल केंद्रीय कर्मियों को 17 फीसदी की दर से भत्ता मिलता है। 13 मार्च को जारी आदेश में सरकार ने इसे 21 फीसदी तक किए जाने का आदेश दिया था, लेकिन अप्रैल के आखिरी सप्ताह में सरकार ने इस फैसले को लागू किए जाने पर रोक लगा दी थी।

Tags: , , , , , , , , , , , ,

Category: DOPT, News, Uncategorized

About the Author ()

Comments are closed.