खास बातें

  • कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने खड़े किये सवाल
  • आरोग्य सेतु ऐप को लेकर राहुल गांधी ने जताई चिंता
  • भय के नाम पर लाभ उठाना गलत- राहुल गांधी

 केंद्र सरकार ने अपने कर्मचारियों के लिए मोबाइल फोन पर आरोग्य सेतु ऐप (Aarogya Setu App) डाउनलोड करना अनिवार्य कर दिया है. 

नई दिल्ली: Arogya Setu ऐप को भारत में तेज़ी से डाउनलोड और इंस्टॉल किया जा रहा है. ऐप ने लॉन्च के कुछ दिनों के अंदर लाखों डाउनलोड्स हासिल कर लिए थे और अब लेटेस्ट जानकारी के मुताबिक, आरोग्य सेतु ऐप को को 7.5 करोड़ (75 मिलियन) बार डाउनलोड किया जा चुका है. आरोग्य सेतु ऐप को 2 अप्रैल को लॉन्च किया गया था और तब से तेजी से बढ़ रहा है.  लेकिन इधर कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने ऐप को लेकर सवाल खड़े किये हैं. राहुल गांधी ने ट्वीट कर लिखा है कि सरकार को भय का लाभ नहीं उठाना चाहिए.

अपने ट्वीट में राहुल ने लिखा है “आरोग्य सेतु ऐप एक परिष्कृत निगरानी प्रणाली है. जो एक प्राइवेट ऑपरेटर का आउटसोर्स है. साथ ही इसमें संस्थागत स्तर पर कोई निगरानी नहीं की जा रही है. इस ऐप से डेटा और गोपनीयता से जुड़े कई समस्या हैं. टेक्नोलॉजी हमें  सुरक्षित रखने में मदद कर सकती है, लेकिन बिना लोगों की सहमति के उन्हें ट्रैक करना गलत है.  भय के नाम पर लाभ उठाना गलत हैं”

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने अपने कर्मचारियों के लिए मोबाइल फोन पर आरोग्य सेतु ऐप (Aarogya Setu App) डाउनलोड करना अनिवार्य कर दिया है. इसका उद्देश्य कोरोनावायरस (Covid-19) की चेन को तोड़ने के लिए ऐप का प्रभावी उपयोग सुनिश्चित करना है. सरकार की ओर से जारी आधिकारिक ज्ञापन के मुताबिक, केंद्र सरकार के अधीन आने वाले सभी अधिकारियों और कर्मचारियों के मोबाइल फोन में तत्काल प्रभाव से आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड होना चाहिए.