इन लाखों कर्मचारियों को नहीं मिलेगा DA में बढ़ोतरी का लाभ, जानिए क्‍या है वजह

मध्‍य प्रदेश के लाखों सरकारी कर्मचारियों और पेंशनरों को Dearness Allowance (DA) में बढ़ोतरी का लाभ नहीं मिल सकेगा. क्‍योंकि राज्‍य सरकार ने कर्मचारियों और अधिकारियों को मार्च माह के वेतन के साथ महंगाई भत्ता दिए जाने के फैसले को कैंसिल कर दिया है.








मध्‍य प्रदेश के लाखों सरकारी कर्मचारियों और पेंशनरों को Dearness Allowance (DA) में बढ़ोतरी का लाभ नहीं मिल सकेगा. क्‍योंकि राज्‍य सरकार ने कर्मचारियों और अधिकारियों को मार्च माह के वेतन के साथ महंगाई भत्ता दिए जाने के फैसले को कैंसिल कर दिया है.

वित्त विभाग के उप सचिव अजय चौबे ने एक आदेश जारी कर बताया है कि 1 जुलाई, 2019 से कर्मचारियों और अधिकारियों को प्रस्तावित महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी का फैसला हुआ था, जिसका मार्च, 2020 के वेतन में भुगतान किया जाना था. महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी संबंधी इस आदेश को निरस्त कर दिया गया है.




बता दें कि सरकार ने बीते दिनों शासकीय सेवकों और स्थायी कर्मियों के महंगाई भत्ते में 1 जुलाई 2019 से बढ़ोतरी कर इसे छठे वेतनमान में 164 प्रतिशत और सातवें वेतनमान में 17 प्रतिशत महंगाई भत्ते की दर निर्धारित कर इसका नगद भुगतान मार्च, 2020 के वेतन से किए जाने का फैसला लिया था.

उधर, हिमाचल प्रदेश सरकार ने 20 हजार बिजली कर्मचारियों के महंगाई भत्‍ते (DA) में 5% की बढ़ोतरी का ऐलान बीते दिनों किया था. इससे उनका महंगाई भत्‍ता 148% से बढ़कर 153% हो गया है. बता दें कि इससे पहले सरकार ने जब महंगाई भत्‍ता बढ़ाया था तब करीब ढाई लाख सरकारी कर्मचारियों के DA में 4 प्रतिशत की बढ़ोतरी हुई थी. बता दें कि हिमाचल प्रदेश में अभी 7वां वेतनमान लागू नहीं हुआ है.




इस नोटिफिकेशन से बिजली कर्मचारियों को बढ़ी हुई सैलरी मिलेगी. हालांकि यह बढ़ोतरी सरकार ने जुलाई 2019 से लागू की है. इसलिए फरवरी 2020 तक के DA का एरियर GPF में जमा होगा.