कोरोना वायरस: इटली से लौटे बेटे की जानकारी छिपाने वाली रेलवे कर्मचारी निलंबित

| March 20, 2020

दक्षिण पश्चिम रेलवे ने अपनी एक महिला अधिकारी को निलंबित कर दिया है। उन्होंने कथित तौर पर अपने बेटे की जानकारी छिपाई थी जो इटली से वापस आया था। अधिकारियों को उसके बारे में जानकारी मिलने के बाद अधिकारी के बेटे को पृथक (आइसोलेशन) रखा गया है।

रेलवे के प्रवक्ता ई विजया ने बताया कि महिला अधिकारी ने प्राधिकारियों को अपने बेटे के जर्मनी से लौटने की जानकारी नहीं दी और मुख्य बंगलूरू स्टेशन के निकट रेलवे के एक अतिथिगृह में उसे रख कर अन्य लोगों के जीवन को भी खतरे में डाला। विजया ने बताया कि सहायक कार्मिक अधिकारी (यातायात) को निलंबित कर दिया गया है।







रेलवे प्रवक्ता ने बताया कि 25 वर्षीय युवक स्पेन से होते हुए जर्मनी से आया था और उसे 13 मार्च को बंगलूरू में केम्पेगौड़ा अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा पहुंचने पर घर में पृथक रहने को कहा गया था। वह 18 मार्च को कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया।

वहीं रेलवे के एक अधिकारी ने कहा कि उन्होंने अपने परिवार को बचाने के लिए अपने बेटे को छुपाया लेकिन उन्होंने हम सबका जीवन खतरे में डाल दिया।



महिला ने चुपके से अपने बेटे को केएसआर रेलवे स्टेशन पर मौजूद ऑफिसर्स रेस्ट हाउस में 13 मार्च को ठहरने की व्यवस्था कराई थी। हालांकि इस बात का पता नहीं चल पाया है कि रापत्रित महिला अधिकारी उसे काथीरिगुप्पे में मौजूद अपने घर क्यों नहीं लेकर गई।




महिला का बेटा बंगलूरू में एक स्टार्टअप चलाता है। उसकी तबीयत बिगड़ने पर एंबुलेंस को बुलाया गया और उसे मंगलवार रात को अस्पताल ले जाया गया। बुधवार को राजीव गांधी इंस्टीट्यूट ऑफ चेस्ट डिसीज में उसका परीक्षण हुआ जो पॉजिटिव मिला। मामला सामने आने के बाद रेलवे ने रेस्ट हाउस को बंद करने का फैसला लिया है।

Category: Indian Railways, News

About the Author ()

Comments are closed.