रेलवे ने अवैध सॉफ्टवेयरों का किया सफाया, अब आसानी से होंगे रिजर्व्ड टिकट उपलब्ध

| February 19, 2020

रेलवे ने अवैध सॉफ्टवेयरों का किया सफाया, अब आसानी से होंगे तत्काल टिकट उपलब्ध

रेलवे ने अवैध सॉफ्टवेयरों का सफाया करते हुए उन ६० एजेंटों को गिरफ्तार किया है‚ जो ऐसे तरीकों से टिकटों की बुकिंग कर लेते थे। रेलवे के इस कदम से अब यात्रियों के लिए अधिक संख्या में तत्काल टिकट उपलब्ध हो सकेंगे। रेल टिकट के काले कारोबार से जुड़े़ लोग करीब सौ करोड़़ रुûपए तक का धंधा करते थे‚ लेकिन अब अवैध सॉफ्टवेयर के सफाये से इस पर अंकुश लगेगा। ॥
अब घंटों तक उपलब्ध होंगे तत्काल टिकटः रेलवे सुरक्षा बल (आरपीएफ) के महानिदेशक अरुûण कुमार ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा कि सफाई अभियान का अर्थ है कि यात्रियों के लिए अब तत्काल टिकट घंटों तक उपलब्ध होंगे जबकि पहले बुकिंग खुलने के बाद एक या दो मिनट पहले तक ही उपलब्ध होते थे। टिकट के काले कारोबार से जुड़े़ एएनएमएस‚ मैक और जगुआर जैसे अवैध सॉफ्टवेयर का उपयोग करते थे‚ लेकिन आईआरसीटीसी के सॉफ्टवेयर में लॉगिन कैप्चा‚ बुकिं ग कैप्चा और बैंक ओटीपी की प्रक्रिया से गुजरना पड़़ता है।
इससे यात्रियों को तत्काल टिकट नहीं मिलते थे और अवैध कारोबारी तत्काल टिकट बुक करा लेते थे। ॥ उन्होंने बताया कि एक सामान्य ग्राहक के लिए बुकिंग प्रक्रिया में आमतौर पर लगभग २.५५ मिनट लगते हैं‚ लेकिन ऐसे अवैध सॉफ्टवेयरों का उपयोग करने वाले इस प्रक्रिया को लगभग १.४८ मिनट में पूरी कर लेते थे। रेलवे एजेंटों को तत्काल टिकट बुक करने की अनुमति नहीं देता और पिछले दो महीनों में आरपीएफ ने लगभग ६० अवैध एजेंटों को पकड़़ा जो इन सॉफ्टवेयरों के जरिए टिकट बुक कर रहे थे। ऐसे में अन्य लोगों के लिए तत्काल टिकट प्राप्त करना वस्तुतः असंभव हो गया। ॥
अब नहीं हो रही टिकटों की अवैध बुकिंगः उन्होंने कहा कि आज मैं कह सकता हूं कि अवैध सॉफ्टवेयरों के जरिए एक भी टिकट नहीं बुक किया जा रहा है। हमने आईआरसीटीसी से जुड़़े सभी मुद्दों को हल कर लिया है तथा उन लोगों को भी पकड़़ लिया जो सॉफ्टवेयर के प्रमुख ऑपरेटर थे। उन्होंने कहा कि इन गिरफ्तारियों के साथ ही अधिकतर अवैध सॉफ्टवेयरों को ब्लॉक कर दिया गया है जो सालाना ५० से १०० करोड़़ रुûपये का कारोबार करते थे। ॥ रेलवे ने तत्परता दिखाते हुए ६० एजेंटों को किया गिरफ्तार॥

Category: News

About the Author ()

Comments are closed.