रेलवे के इन कर्मचारियों को मिलेगा प्रमोशन – रेलवे बोर्ड ने जारी किया आदेश

| December 17, 2019

रेलवे के इन कर्मचारियों को मिलेगा प्रमोशन – रेलवे बोर्ड ने जारी किया आदेश

रेलवे में संचालन से जुड़े पोर्टर व प्वाइंट्समैन भी प्रोन्नत होंगे। रेलवे बोर्ड ने इसके आदेश जारी कर दिए हैं। मंडलों में तैनात पोर्टर अब शंटमैन, गार्ड और ट्रेन क्लर्क बन सेवानिवृत्त हो पाएंगे। सालों से इनकी प्रोन्नति की लड़ाई अब खत्म हो गई है। उत्तरीय रेलवे मजदूर यूनियन (यूआरएमयू) की मांग को रेलवे बोर्ड ने स्वीकार करते हुए कर्मचारियों को एक जून 2016 से एरियर और वेतन का लाभ देने का निर्णय लिया है।








रेलवे में पोर्टर पर तैनात रेलकर्मियों को अब जल्द ही प्रमोशन का लाभ मिल सकेगा। रेलवे बोर्ड ग्रुप डी के 89 फीसदी कर्मचारियों ग्रुप सी में सीधे प्रोन्नत करने जा रहा है। इनकी प्रोन्नति रेलवे में वरिष्ठता क्रम के आधार पर होगी। बाकी बचे हुए 11 फीसदी कर्मचारियों को प्रोन्नत हुए कर्मचारियों के सेवानिवृत्त होने पर जोड़ा जाएगा। इससे भारतीय रेल में करीब 20 हजार पोर्टरों को लाभ मिलेगा। अभी तक यह कर्मचारी ग्रुप डी में 1800 पर भर्ती होकर यहीं से सेवानिवृत्त हो रहे थे। लेकिन, अब ऐसे कर्मचारियों को भी 1900 ग्रुप पे का लाभ मिलेगा और रेलवे की आंतरिक परीक्षाएं देकर दूसरे ग्रेड पे का लाभ उठा सकेंगे।




कर्मचारियों के दो पद होंगे

यूआरएमयू के मंडल अध्यक्ष विद्यानाथ यादव ने बताया कि यूनियन के महामंत्री बीसी शर्मा ने वर्ष 2016 में महाप्रबंधक स्तर पर ज्वाइंट मीटिंग में यह मुद्दा उठाया था। इसमें पोर्टर की रिस्ट्रक्चरिंग पर सहमति बनी थी। जिसको अब लागू कर दिया गया है। इसके तहत पोर्टर में अब ग्रुप ए और ग्रुप ब पोर्टर के पद होंगे।




11 फीसदी के आधार पर नियुक्तियां

विद्यानाथ यादव के मुताबिक नई भर्तियों के लिए अब 11 फीसदी के ग्रुप बी से ग्रुप ए में प्रोन्नत होने के बाद जो पद खाली होंगे, उनके आधार पर रेलवे में भर्तियां होंगी। उन्होंने बताया कि उत्तर रेलवे में करीब 490 कर्मचारी प्रोन्नत होंगे और 1900 ग्रुड पे पर पहुंचेंगे।

Category: News

About the Author ()

Comments are closed.