रेलवे में री-इंगेज कर्मियों की सेवा होगी खत्म!, रेल मंत्री का एलान

| November 12, 2019

समस्तीपुर रेल मंडल में सेवानिवृत्त कर्मचारियों को फिर से सेवा में भर्ती (री-इंगेज) कर्मियों की सेवा को 30 नवंबर को हमेशा के लिये खत्म होने वाली है। इसकी जगह पर रेलवे अब नए युवकों को संविदा के आधार पर रखने की योजना बना रही है। हालांकि अभी तक इस संबंध में कोई पत्र मंडल कार्यालय में नहीं आया है। लेकिन, अधिकारिक सूत्रों की मानें तो 21 अक्टूबर को रेल मंत्री पीयूष गोयल ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरीये अधिकारियों को ऐसा निर्देश दिया है। जिसके कारण रेलवे में कार्यरत री-इंगेज कर्मियों के बीच हड़कंप मचा है।








मिली जानकारी के अनुसार समस्तीपुर रेल मंडल में 213 सेवानिवृत्त कर्मियों को री-इंगेज के तहत बहाल किया गया था। इनमें से वर्तमान में 194 सेवानिवृत्त कर्मचारी काम कर रहे हैं। इन कर्मियों को एक वर्ष के लिये री-इंगेज किया जाता है, जो आगामी 30 नवंबर को खत्म होने वाला है। रेल मंत्री के बयान के बाद ऐसी आशंका जतायी जा रही है कि 30 नवंबर के बाद ऐसे कर्मियों की फिर से री-इंगेज के तहत बहाली नहीं की जायेगी।




विदित हो कि सेवानिवृत्त होने वाले कर्मियों को री-इंगेज किये जाने की योजना विभाग के द्वारा बनायी गयी थी, जिसमें अधितक 65 वर्ष की आयु तक ही कर्मियों को री-इंगेज किया जा सकता है।

बयान…




‘रेलवे बोर्ड के अनुसार 30 नवंबर तक ही री-इंगेज करने का आदेश है। मुख्यालय से इन कर्मियों को री-इंगेज करने के लिये अगर पत्र नहीं आता है तो स्वत: इसे समाप्त समझा जायेगा। फिलहाल इसको लेकर पत्र का इंतजार किया जा रहा है।

– बिरेंद्र कुमार, सीनियर डीसीएम, समस्तीपुर रेल मंडल।

Category: News

About the Author ()

Comments are closed.