सीबीआई का रेलवे बुकिंग सेण्टर पर छापा – प्रतिबंधित साफ्टवेयर व ई टिकट के साथ गिरफ्तार

| November 7, 2019

सीआइबी भटनी की टीम ने आरपीएफ के साथ छापेमारी कर एक ई-टिकट दलाल को गिफ्तार कर जेल भेज दिया है। सरगना फरार है।

सीआइबी भटनी के प्रभारी संजय राय ने बताया कि ई टिकट दलाली की सूचना के आधार पर सीआइबी और आरपीएफ की टीम ने संयुक्त रूप से छापेमारी कर गोरखपुर के मोतीराम अड्डा से मंटू टूर एंड ट्रैवेल्स नाम की दुकान झंगहा टोला गोरखपुर निवासी सुनील कुमार पुत्र बलिहारी को गिरफ्तार किया गया है।








बताया कि प्रतिबंधित रेड मिर्ची एएनएमएस साफ्टवेयर व आइआरसीटीसी की फर्जी आइडी पर बनाए गए तत्काल व सामान्य ई-टिकटों के साथ गिरफ्तार किया गया है। एक अन्य अभियुक्त राजेश प्रसाद पुत्र भंडारी निवासी झंगहा मौके से फरार हो गया। दुकान से 39 अदद तत्काल व सामान्य ई टिकट जिसकी कीमत लगभग 65,866 रुपये तथा 1300 रुपये नकद, दो सीपीयू, दो ¨पट्रर, मानीटर एक स्कैनर, दो की बोर्ड, दो नेट शटर तथा दो अदद मोबाइल बरामद हुआ है।








पकड़े गए आरोपित ने फरार आरोपित के साथ मिलकर बड़ी मात्र में फर्जी ढंग से आइआरसीटीसी पर्सनल यूजर आइडी बनाकर उस पर एएनएमएस रेड मिर्ची सॉफ्टवेयर के माध्यम से तत्काल रेलवे ई- टिकट बनाने की बात स्वीकार की है ।

फरार राजेश प्रसाद इस धंधे का मास्टरमाइंड है जो 10 से ज्यादा मेल आइडी व 9 आइआरसीटीसी फर्जी पर्सनल आइडी से बदल कर ई-टिकट बनाता व बेचता है।

गिरफ्तार आरोपित के विरुद्ध रेलवे सुरक्षा बल देवरिया ने मुकदमा पंजीकृत किया है।

Category: News

About the Author ()

Comments are closed.